Friday, December 2, 2022
HomeTrending NewsBoth The Accused Constables Arrested Also Suspended - Prayagraj : ट्रेन से...

Both The Accused Constables Arrested Also Suspended – Prayagraj : ट्रेन से धक्का देने के मामले में जीआरपी के दोनों आरोपी सिपाही गिरफ्तार कर भेजे गए जेल, निलंबित


Arrest demo

Arrest demo
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

मुंबई-हावड़ा मेल से धक्का देकर अरुण भुइया (35) की मौत में नामजद जीआरपी के दोनों सिपाही शनिवार को गिरफ्तार कर लिए गए। इसके बाद भ्रष्टाचार निवारण कोर्ट के आदेश पर उन्हें वाराणसी जेल में दाखिल करा दिया गया। उधर, एसपी ने दोनों को निलंबित भी कर दिया है। आरोपियों में में कृष्ण कुमार सिंह व आलोक कुमार पांडेय शामिल हैं। आलोक कानपुर जबकि कृष्ण कुमार रायबरेली का रहने वाला है। उन्हें प्रयागराज से ही पकड़ा गया। पिछले करीब आठ महीनों से दोनों छिवकी स्टेशन पर तैनात थे। 

गिरफ्तारी के बाद उन्हें वाराणसी ले जाकर भ्रष्टाचार निवारण कोर्ट में पेश किया गया। वहां रिमांड मंजूर होने के बाद उन्हें जेल में दाखिल करा दिया गया। उधर, जीआरपी एसपी ने दोनों को निलंबित कर विभागीय जांच के भी आदेश दे दिए हैं। इंस्पेक्टर राजीव रंजन उपाध्याय ने बताया कि दोनों सिपाहियों को जेल भेज दिया गया है। 

दो दिन पहले हुई थी घटना
20 अक्तूबर को हुई घटना के संबंध में मृतक के दोस्त अर्जुन ने नामजद मुकदमा दर्ज कराया है। जिसमें आरोप लगाया है कि टिकट होने के बावजूद दोनों सिपाहियों ने जबरन रुपये वसूली की। न सिर्फ उसे व उसके दोस्त बल्कि बोगी में मौजूद अन्य यात्रियों को भी पीटा। साथ ही उसके दोस्त को धक्का दे दिया, जिसमें उसकी मौत हो गई। 

विस्तार

मुंबई-हावड़ा मेल से धक्का देकर अरुण भुइया (35) की मौत में नामजद जीआरपी के दोनों सिपाही शनिवार को गिरफ्तार कर लिए गए। इसके बाद भ्रष्टाचार निवारण कोर्ट के आदेश पर उन्हें वाराणसी जेल में दाखिल करा दिया गया। उधर, एसपी ने दोनों को निलंबित भी कर दिया है। आरोपियों में में कृष्ण कुमार सिंह व आलोक कुमार पांडेय शामिल हैं। आलोक कानपुर जबकि कृष्ण कुमार रायबरेली का रहने वाला है। उन्हें प्रयागराज से ही पकड़ा गया। पिछले करीब आठ महीनों से दोनों छिवकी स्टेशन पर तैनात थे। 

गिरफ्तारी के बाद उन्हें वाराणसी ले जाकर भ्रष्टाचार निवारण कोर्ट में पेश किया गया। वहां रिमांड मंजूर होने के बाद उन्हें जेल में दाखिल करा दिया गया। उधर, जीआरपी एसपी ने दोनों को निलंबित कर विभागीय जांच के भी आदेश दे दिए हैं। इंस्पेक्टर राजीव रंजन उपाध्याय ने बताया कि दोनों सिपाहियों को जेल भेज दिया गया है। 

दो दिन पहले हुई थी घटना

20 अक्तूबर को हुई घटना के संबंध में मृतक के दोस्त अर्जुन ने नामजद मुकदमा दर्ज कराया है। जिसमें आरोप लगाया है कि टिकट होने के बावजूद दोनों सिपाहियों ने जबरन रुपये वसूली की। न सिर्फ उसे व उसके दोस्त बल्कि बोगी में मौजूद अन्य यात्रियों को भी पीटा। साथ ही उसके दोस्त को धक्का दे दिया, जिसमें उसकी मौत हो गई। 





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img