Thursday, February 9, 2023
HomeTrending NewsChina Asks Citizens To Leave Afghanistan After Kabul Attack - Kabul Attack:...

China Asks Citizens To Leave Afghanistan After Kabul Attack – Kabul Attack: काबुल में होटल पर हमले के बाद चीन ने अपने नागरिकों से अफगानिस्तान छोड़ने को कहा


अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में होटल पर हमला।
अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में होटल पर हमला।
– फोटो : [email protected]

ख़बर सुनें

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के मध्य में एक चीनी स्वामित्व वाले होटल पर हुए हमले को बाद चीन ने अपने नागरिकों से अफगानिस्तान छोड़ने के लिए कहा। चीन ने अफगानिस्तान में रह रहे अपने नागरिकों को जितनी जल्दी हो सके देश छोड़ने की सलाह दी है। 12 दिसंबर को काबुल स्थित लोंगन होटल को निशाना बनाकर जोरदार धमाका किया गया था। साथ ही कुछ लोगों ने होटल के अंदर घुसकर गोलीबारी भी की थी। यह होटल चीनी लोगों के बीच लोकप्रिय है, यहां अक्सर चीनी आगंतुक आते थे। तालिबान सरकार के प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद ने कहा कि जान बचाने के लिए खिड़की से कूदे दो विदेशी नागरिक घायल हुए हैं, जबकि तीन हमलावरों को मार गिराया गया। 

चीनी विदेश मंत्रालय ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस
चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने 13 दिसंबर को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि अफगानिस्तान में वर्तमान सुरक्षा स्थिति को देखते हुए, विदेश मंत्रालय एक बार फिर अफगानिस्तान में हमारे नागरिकों और संस्थानों को जल्द से जल्द देश छोड़ने और खाली करने की सलाह देता है। दूतावास को अपनी पहचान की जानकारी दें। साथ ही अतिरिक्त सुरक्षा सावधानी बरतें और आपातकालीन तैयारियों को बढ़ाएं।

वेनबिन ने कहा कि यह बेहद घृणित आतंकवादी हमला है और चीनी दूतावास ने भी अफगान पक्ष से इस हमले पर गौर करने को कहा है। उन्होंने कहा कि हमले के मद्देनजर, अफगानिस्तान में चीनी दूतावास ने तुरंत अफगान अंतरिम सरकार के साथ एक गंभीर प्रतिनिधित्व दर्ज कराया और अफगान पक्ष से चीनी नागरिकों को खोजने और बचाने के लिए हर संभव प्रयास करने को कहा। चीनी पक्ष ने तालिबान से अपराधियों को न्याय दिलाने और अफगानिस्तान में चीनी नागरिकों और संस्थानों का बचाव और सुरक्षा को प्रभावी ढंग से मजबूत करने के लिए कहा।

यूएन प्रमुख एंटोनियो गुटेरेस ने हमले की निंदा की
संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने भी काबुल होटल पर हमले की कड़ी निंदा की है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने एक बयान में कहा कि महासचिव 12 दिसंबर को काबुल के एक होटल पर हुए हमले की कड़ी निंदा करते हैं। महासचिव शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हैं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं।
 

आईएस गुट ने ली हमले की जिम्मेदारी
होटल में हुए हमले की जिम्मेदारी आतंकी गुट इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने ली है। काबुल पुलिस प्रमुख के लिए तालिबान द्वारा नियुक्त प्रवक्ता खालिद जादरान ने कहा कि हमला कई घंटों तक चला, जिसके बाद सफाई अभियान चलाया गया। हमले की जिम्मेदारी मंगलवार को तालिबान के प्रतिद्वंद्वी आईएस गुट ने ली है। उसने आतंकी टेलीग्राम चैनलों में से एक पर बयान दिया कि समूह से जुड़े दो सदस्यों ने होटल को निशाना बनाया जिसका इस्तेमाल अक्सर राजनयिक करते हैं। मृतकों को लेकर तालिबान और आईएस के बयानों में एकरूपता नहीं थी। तालिबान ने कहा तीन आतंकी मारे गए हैं जबकि आईएस ने कहा उसके दो लड़ाकों ने हमला किया था। 

विस्तार

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के मध्य में एक चीनी स्वामित्व वाले होटल पर हुए हमले को बाद चीन ने अपने नागरिकों से अफगानिस्तान छोड़ने के लिए कहा। चीन ने अफगानिस्तान में रह रहे अपने नागरिकों को जितनी जल्दी हो सके देश छोड़ने की सलाह दी है। 12 दिसंबर को काबुल स्थित लोंगन होटल को निशाना बनाकर जोरदार धमाका किया गया था। साथ ही कुछ लोगों ने होटल के अंदर घुसकर गोलीबारी भी की थी। यह होटल चीनी लोगों के बीच लोकप्रिय है, यहां अक्सर चीनी आगंतुक आते थे। तालिबान सरकार के प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद ने कहा कि जान बचाने के लिए खिड़की से कूदे दो विदेशी नागरिक घायल हुए हैं, जबकि तीन हमलावरों को मार गिराया गया। 

चीनी विदेश मंत्रालय ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने 13 दिसंबर को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि अफगानिस्तान में वर्तमान सुरक्षा स्थिति को देखते हुए, विदेश मंत्रालय एक बार फिर अफगानिस्तान में हमारे नागरिकों और संस्थानों को जल्द से जल्द देश छोड़ने और खाली करने की सलाह देता है। दूतावास को अपनी पहचान की जानकारी दें। साथ ही अतिरिक्त सुरक्षा सावधानी बरतें और आपातकालीन तैयारियों को बढ़ाएं।

वेनबिन ने कहा कि यह बेहद घृणित आतंकवादी हमला है और चीनी दूतावास ने भी अफगान पक्ष से इस हमले पर गौर करने को कहा है। उन्होंने कहा कि हमले के मद्देनजर, अफगानिस्तान में चीनी दूतावास ने तुरंत अफगान अंतरिम सरकार के साथ एक गंभीर प्रतिनिधित्व दर्ज कराया और अफगान पक्ष से चीनी नागरिकों को खोजने और बचाने के लिए हर संभव प्रयास करने को कहा। चीनी पक्ष ने तालिबान से अपराधियों को न्याय दिलाने और अफगानिस्तान में चीनी नागरिकों और संस्थानों का बचाव और सुरक्षा को प्रभावी ढंग से मजबूत करने के लिए कहा।


यूएन प्रमुख एंटोनियो गुटेरेस ने हमले की निंदा की

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने भी काबुल होटल पर हमले की कड़ी निंदा की है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने एक बयान में कहा कि महासचिव 12 दिसंबर को काबुल के एक होटल पर हुए हमले की कड़ी निंदा करते हैं। महासचिव शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हैं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं।

 

आईएस गुट ने ली हमले की जिम्मेदारी

होटल में हुए हमले की जिम्मेदारी आतंकी गुट इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने ली है। काबुल पुलिस प्रमुख के लिए तालिबान द्वारा नियुक्त प्रवक्ता खालिद जादरान ने कहा कि हमला कई घंटों तक चला, जिसके बाद सफाई अभियान चलाया गया। हमले की जिम्मेदारी मंगलवार को तालिबान के प्रतिद्वंद्वी आईएस गुट ने ली है। उसने आतंकी टेलीग्राम चैनलों में से एक पर बयान दिया कि समूह से जुड़े दो सदस्यों ने होटल को निशाना बनाया जिसका इस्तेमाल अक्सर राजनयिक करते हैं। मृतकों को लेकर तालिबान और आईएस के बयानों में एकरूपता नहीं थी। तालिबान ने कहा तीन आतंकी मारे गए हैं जबकि आईएस ने कहा उसके दो लड़ाकों ने हमला किया था। 





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img