Tuesday, December 6, 2022
HomeTrending NewsDelhi Weather Report Delhi Weather Forecast Know How Weather Will Be In...

Delhi Weather Report Delhi Weather Forecast Know How Weather Will Be In Coming Days – Delhi Weather: अक्तूबर में बारिश ने तोड़ा 15 साल का रिकॉर्ड, Imd ने बताई ये वजह, जानें आगे कैसा रहेगा मौसम


राजधानी में अक्तूबर की बारिश ने नया रिकॉर्ड बना दिया है। इस महीने के 11 दिनों में 128.2 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है। मौसम विभाग के पास उपलब्ध 2007 से लेकर अभी तक आंकड़ों में पहली बार इतनी अधिक बारिश दर्ज की गई है। मौसम विशेषज्ञों ने इसके लिए बंगाल की खाड़ी में बार-बार निम्न दाब का क्षेत्र बनने और पश्चिमी विक्षोभ एक साथ होने को जिम्मेदार बताया है। उधर, मंगलवार को चार दिन बाद मौसम साफ होने पर दिल्ली वासियों ने धूप देखी। विभाग का पूर्वानुमान है कि अब मौसम खुला रहने के साथ धूप निकलने से दिन का पारा चढ़ेगा।

मौसम विभाग के पूर्व महानिदेशक डॉ. केजे रमेश ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बार-बार निम्न दाब का क्षेत्र बना है, जो कि मध्य भारत के कई राज्यों में सक्रिय रहा। वहीं, साथ में पश्चिमी विक्षोभ भी सक्रिय हो गया। इन दोनों परिस्थितियों की वजह से उत्तराखंड समेत दिल्ली-एनसीआर में अधिक बारिश दर्ज हुई है। अभी मानसून ने सिर्फ दिल्ली-एनसीआर से विदाई ली है, लेकिन मध्य भारत व नीचले हिस्सों में यह अभी भी बना हुआ है। वहीं, स्काईमेट वेदर के प्रमुख मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने कहा कि इस तरह की स्थिति कई बार मानसून की विदाई के बाद बन जाती हैं। हालांकि, अब आगामी दिनों में बारिश की संभावना नहीं है। 

चार दिन बाद निकली धूप

राजधानी में बीते चार दिनों से लगातार बारिश का दौर मंगलवार सुबह थम गया। सुबह कुछ देर के लिए बादल छाए रहे और कुछ जगहों पर हल्की बारिश हुई। हालांकि, कुछ देर बाद धूप निकल गई। दिनभर धूप निकले रहने की वजह से अधिकतम तापमान चढ़कर सामान्य से चार कम 30.1 व न्यूनतम तापमान सामान्य के बराबर 20.5 डिग्री सेल्सियस रहा। इससे पहले लगातार अधिकतम तापमान सामान्य से 10 कम दर्ज किया जा रहा था। पारा चढ़ने के साथ ही हवा में नमी का स्तर 78 से 100 फीसदी रहा। सुबह साढ़ आठ बजे तक 6.5 व शाम साढ़े पांच बजे तक 0.5 मिमी बारिश रिकॉर्ड हुई है। 

लोधी रोड मानक केंद्र पर सबसे अधिक बारिश दर्ज

मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, सफदरजंग मानक केंद्र पर अभी तक 128.2 मिमी बारिश दर्ज हुई है, जबकि औसत स्तर पर दर्ज होने वाली बारिश का आंकड़ा सिर्फ 10.5 मिमी है। बीते वर्ष पूरे माह 122.5 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई थी, जो कि बीते 15 सालों में सबसे अधिक थी। इस वर्ष पालम केंद्र पर 78 मिमी बारिश हुई है, जबकि यहां औसत स्तर पर 8.8 मिमी बारिश का आंकड़ा है। वहीं, लोधी रोड मानक केंद्र पर सबसे अधिक 130.4 मिमी बारिश हुई है, यहां औसत स्तर पर यह आंकड़ा 10.5 मिमी हुई है। आयानगर में 108.4 मिमी बारिश हुई है। 

आज आंशिक रूप से छाए रहेंगे बादल

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि आज आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे व एक या दो स्थान पर हल्की बूंदाबांदी दर्ज हो सकती है। अधिकतम तापमान 31 व न्यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जा सकता है। विभाग का पूर्वानुमान है कि आगामी दिनों में दिन का पारा चढ़ेगा, हालांकि रात के पारे में कमी होगी। इससे सुबह-शाम हल्की ठंडक महसूस की जा सकती है। 

बीते 15 सालों में अक्तूबर में कब कितनी हुई बारिश

2022- 128.2 मिमी

2021-122.5 मिमी

2019-47.3 मिमी

2013- 72.7 मिमी

2009- 5.4 मिमी

2007-  0.0 मिमी

ऑल टाइम रिकॉर्ड: 1954 में 238.3 मिमी

अक्तूबर में अभी तक किस मानक केंद्र पर कितनी बारिश

 केंद्र              अभी तक         औसत स्तर पर 

सफदरजंग-  128.2              10.5 मिमी

पालम-         78                   8.8 मिमी

लोधी रोड     130.4              10.5 मिमी

आयानगर     108.4              —- मिमी





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img