Thursday, January 26, 2023
Homejobs educationशिक्षा और सफलता का जीवन और समाज में महत्त्व।

शिक्षा और सफलता का जीवन और समाज में महत्त्व।

इस आर्टिकल को Deshpatrika Content Writing Contest में से चुना गया है।

हमें अपने समय के साथ- साथ हर एक चीज को सीखना चाहिए और ज्ञान को अपने अन्दर और सभी के अंदर बाटना चाहिए,क्यों ज्ञान बाटने से बढ़ता है कम कभी नहीं होता है।

धन्यवाद काजल साह (स्वरचित) कोलकाता

जीवन हमारा एक अनमोल और सुंदर भरा हो सकता है ,जब हम अपने सपनों को पाने के लिए और जीवन को अनमोल बनाने के लिए हर वो इंतकाम से लड़ जाते है ,जो हमारे सपने में बाधा डालते है ,जीवन और जीने में क्या अंतर है? हम धरती पर तो जन्म ले लेते है लेकिन हम अपने जीवन में वही जिंदगी जीते है ,खाना, पीना और सो जाना ,और अपने अस्तित्व को बिना बनाए आराम और मखमल के चादर पर सो जाते है ,और खुद की पहचान ना बनाकर वहीं घिसा पिटा जीवन को व्यतीत करते है।


शिक्षा एक ऐसा माध्यम से जो इंसान के व्यक्तित्व का निर्माण करती है ,और उसकी पहचान बनाने में सहायता प्रदान करती है ,और जीवन को नया किरण और नई ऊर्जा का माध्यम प्रदान करती है ,ज्ञान से बड़ा कोई धन नहीं होता और मेहनत के बिना कोई फल नहीं मिलता ,इसलिए हमें हमेशा ज्ञान को अर्जित करनी चाहिए। लगन और मग्न एक ऐसा शब्द है जो इंसान में दिख जाए तो वो कोई भी चीज में सफलता हासिल कर सकता है ,कोशिश इतनी होनी चाहिए कि हरदम शिक्षा को एक महत्पूर्ण स्थान देनी चाहिए और सभी को शिक्षा का अधिकार मिलनी चाहिए।


पहले की बात की जाए तो पहले के वक्त में नारिया अनपढ़ होती थी ,वो शिक्षा के बारे में पूर्ण रूप से वंचित थी और उन्हें हमेशा घर के काम ,फूल चुनना ,नाचना यही घेरुलू चीज सिखाए जाते थे ,जिसे वे महिलाएं वहीं काम को सीखती थी और ज्ञान से वंचित रह जाती थी ,बड़े दुख की बात थी कि वो औरते अपना हक मांगने से भी डरती थी और अपने पति और उनके घरवालों को अपना जीवन कुर्बान कर देती थी और हरदम उन पीड़ित महिलाओं को अपने पति और समाज के लोगों से ताना सुनना पड़ता था ,और वो हरदम वहीं दर्द को घुट – घुट कर सह लेती थी ,ज्ञान पर सभी का हक है ,इस कठिन समय को हाराने के लिए कई ऐसे महापुरुष आए जिन्होंने महिलाओं को अपना और एक उज्जवल हक देने की कोशिश की।


वर्तमान को बात को जाए तो आज लड़कियां और लड़के समाज में कंधे में कंधे मिला कर समाज को एक आशा की नई किरण प्रदान कर रही है और भारत को और विकसित करते जा रही है ,दुनिया में कई अरबों लोग जन्म लेते है और करोड़ों लोग मर भी जाते है ,लेकिन हम इन सभी में से किसको जान पाते है ?जिन्होंने कड़ी मेहनत और कई रात जाग कर अपने सपनों को पूरा करने के लिए हर एक चुनौतियों से लड़े होगे जो मर के भी हमारे दिल में जिंदा है ,अमर की तरह,इसलिए जीवन में हमें ज्ञान को जरूर से जरूर अर्जित करनी चाहिए।


आज के जो नवजवान है ,वो अपने कीमती समय को बर्बाद कर और अपने राह से भटक कर ,वो गलत राह पर चले जाते है , जहां से फिर एक बार लौटना कठिन हो जाता है और दलदल भरे रास्ते में अपना कदम को रख देते है,और अपने सपने के मंजिल से कहीं दूर कहीं कोसों दूर भटक जाते है। और उन्हें तब पता चलता है जब वो अपने बुढ़ापा अवस्था में पहुंच जाते है और बाद में घुट – घुट कर रोते है और वह पल को खोजने की कोशिश करते है जो अब कभी नहीं मिल सकता है।

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img