Wednesday, February 8, 2023
HomeTrending NewsFirozabad: Fierce Fire Broke Out In Jewelry Shop In Jasrana, Five Burnt...

Firozabad: Fierce Fire Broke Out In Jewelry Shop In Jasrana, Five Burnt Alive, Cm Expressed Grief – Firozabad: जसराना में घर में लगी भीषण आग, दंपत्ति समेत छह की मौत, सीएम ने जताया शोक


घर में लगी आग

घर में लगी आग
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

कसबा पाढ़म स्थित एक मकान में शॉट सर्किट से भीषण आग लग गई। आग की चपेट में आकर दंपत्ति समेत छह लोगों की मौत हो गई। उनके शव निकाल लिए गए हैं। घटना पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने शोक व्यक्त किया है। घर में इनवर्टर बनाने का काम होता था। आग शॉर्ट सर्किट होने से लगी थी।

आग पर काबू पाने को फायर विभाग की करीब सात गाड़ियां देर रात तक काबू पाने का प्रयास करती रहीं। आग की लपटों के बीच पांच लोगों के फंसे होने की सूचना पर डीएम व एसएसपी के साथ शिकोहाबाद व जसराना सर्किल का फोर्स भी मौके पर पहुंच गया। फायर विभाग के कर्मचारी देर रात तक आग पर काबू पाने का प्रयास करते रहे।

मरने वालों की पहचान मनोज कुमार रामनप्रकाश (35), नीरज पत्नी मनोज कुमार (35), हर्ष पुत्र मनोज कुमार (12), भारत पुत्र मनोज (8), शिवानी पत्नी नितिन (32), तेजस्वी पुत्री नितिन (3 माह) के रूप में हुई है।

कसबा पाढ़म निवासी रमन प्रकाश के मकान में देर शाम आग लग गई। इसकी जानकारी आसपास के लोगों को हुई तो उन्होंने आग पर काबू पाने के साथ ही फायर विभाग को सूचना दी। करीब एक घंटे तक फायर विभाग की गाड़ी मौके पर नहीं पहुंची। इस बीच आग मकान में बनी तीन दुकानों के साथ तलघर में भी फैल गई। करीब एक घंटे बाद फायर विभाग की गाड़ी मौके पर पहुंची, तब कहीं जाकर आग बुझाने की कार्रवाई शुरू हो सकी।

आग इतनी भीषण थी कि उस पर देर रात तक फायर विभाग की गाड़ियां काबू नहीं पा सकी थीं। जिले में मौजूद फायर विभाग की गाड़ियों को बुला लिया गया। इसके बाद भी रात करीब साढ़े नौ बजे तक फायर विभाग के कर्मचारी आग पर काबू नहीं पा सके। मौके पर पहुंचे डीएम रविरंजन और एसएसपी आशीष तिवारी जहां आक्रोशित लोगों को समझाने का प्रयास कर रहे थे। वहीं लोगों का कहना था कि समय रहते फायर विभाग की गाड़ी मौके पर आ जाती तो आग इतनी भीषण नहीं होती। फायर विभाग के अफसरों की लापरवाही के कारण आग इतनी भीषण हुई है।

सीएम ने जताया शोक
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आग लगने की घटना का संज्ञान लेते हुए अधिकारियों को मौके पर पहुंचकर तेजी से राहत कार्य कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इस हादसे में मरने वालों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की सहायता दिए जाने के निर्देश भी दिए हैं। मुख्यमंत्री ने इस हादसे में जनहानि पर दुख व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

विस्तार

कसबा पाढ़म स्थित एक मकान में शॉट सर्किट से भीषण आग लग गई। आग की चपेट में आकर दंपत्ति समेत छह लोगों की मौत हो गई। उनके शव निकाल लिए गए हैं। घटना पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने शोक व्यक्त किया है। घर में इनवर्टर बनाने का काम होता था। आग शॉर्ट सर्किट होने से लगी थी।

आग पर काबू पाने को फायर विभाग की करीब सात गाड़ियां देर रात तक काबू पाने का प्रयास करती रहीं। आग की लपटों के बीच पांच लोगों के फंसे होने की सूचना पर डीएम व एसएसपी के साथ शिकोहाबाद व जसराना सर्किल का फोर्स भी मौके पर पहुंच गया। फायर विभाग के कर्मचारी देर रात तक आग पर काबू पाने का प्रयास करते रहे।

मरने वालों की पहचान मनोज कुमार रामनप्रकाश (35), नीरज पत्नी मनोज कुमार (35), हर्ष पुत्र मनोज कुमार (12), भारत पुत्र मनोज (8), शिवानी पत्नी नितिन (32), तेजस्वी पुत्री नितिन (3 माह) के रूप में हुई है।

कसबा पाढ़म निवासी रमन प्रकाश के मकान में देर शाम आग लग गई। इसकी जानकारी आसपास के लोगों को हुई तो उन्होंने आग पर काबू पाने के साथ ही फायर विभाग को सूचना दी। करीब एक घंटे तक फायर विभाग की गाड़ी मौके पर नहीं पहुंची। इस बीच आग मकान में बनी तीन दुकानों के साथ तलघर में भी फैल गई। करीब एक घंटे बाद फायर विभाग की गाड़ी मौके पर पहुंची, तब कहीं जाकर आग बुझाने की कार्रवाई शुरू हो सकी।

आग इतनी भीषण थी कि उस पर देर रात तक फायर विभाग की गाड़ियां काबू नहीं पा सकी थीं। जिले में मौजूद फायर विभाग की गाड़ियों को बुला लिया गया। इसके बाद भी रात करीब साढ़े नौ बजे तक फायर विभाग के कर्मचारी आग पर काबू नहीं पा सके। मौके पर पहुंचे डीएम रविरंजन और एसएसपी आशीष तिवारी जहां आक्रोशित लोगों को समझाने का प्रयास कर रहे थे। वहीं लोगों का कहना था कि समय रहते फायर विभाग की गाड़ी मौके पर आ जाती तो आग इतनी भीषण नहीं होती। फायर विभाग के अफसरों की लापरवाही के कारण आग इतनी भीषण हुई है।

सीएम ने जताया शोक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आग लगने की घटना का संज्ञान लेते हुए अधिकारियों को मौके पर पहुंचकर तेजी से राहत कार्य कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इस हादसे में मरने वालों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की सहायता दिए जाने के निर्देश भी दिए हैं। मुख्यमंत्री ने इस हादसे में जनहानि पर दुख व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img