Saturday, February 4, 2023
HomeTrending NewsGujarat Election 2022, Amit Shah Says, Aap Might Not Open Account In...

Gujarat Election 2022, Amit Shah Says, Aap Might Not Open Account In Gujarat, Says Amit Shah – Gujarat: अमित शाह का बड़ा दावा- चुनाव में एक भी सीट नहीं जीतेगी Aap, क्षेत्रीय भाषाओं को लेकर कही ये बात


अमित शाह

अमित शाह
– फोटो : PTI

ख़बर सुनें

गुजरात में एक दिसंबर को पहले चरण की वोटिंग से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आम आदमी पार्टी पर जोरदार हमला बोला।  गुजरात विधानसभा चुनाव में आप के उतरने के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि हर पार्टी को चुनाव लड़ने का अधिकार है, लेकिन यह लोगों पर निर्भर है कि वे पार्टी को स्वीकार करते हैं या नहीं। उन्होंने कहा कि गुजरात के लोगों के दिमाग में आप कहीं नहीं है। चुनाव नतीजों का इंतजार कीजिए, शायद सफल उम्मीदवारों की सूची में आप का नाम न आए। कांग्रेस पर शाह ने कहा कि यह अभी भी मुख्य विपक्षी पार्टी है, लेकिन पार्टी संकट के दौर से गुजर रही है, और इसका असर गुजरात में भी दिखाई दे रहा है। 
 
हमें पीएम मोदी पर पूरा भरोसा: अमित शाह
समाचार एजेंसी पीटीआई को दिए एक साक्षात्कार में अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता, राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान गुजरात के सर्वांगीण विकास और जीरो तुष्टिकरण नीति को लागू करने को पिछले कुछ वर्षों में लोगों द्वारा बार-बार भाजपा में विश्वास जताने का मुख्य कारण बताया।  शाह ने कहा कि भाजपा गुजरात में अभूतपूर्व जीत दर्ज करेगी। लोगों को हमारी पार्टी और हमारे नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पूरा भरोसा है।

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर दिया जवाब
कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के बारे में पूछे जाने पर शाह ने कहा कि राजनीति में निरंतर प्रयास जरूरी हैं। उन्होंने कहा मेरा हमेशा से मानना रहा है कि राजनेताओं को कड़ी मेहनत करने की जरूरत है और यह अच्छा है जब कोई कड़ी मेहनत करता है। लेकिन राजनीति में निरंतर प्रयास ही परिणाम दिखाते हैं। इसलिए इंतजार करें और देखें। 

अमित शाह ने छात्रों को पढ़ाया पाठ
अमित शाह ने कहा कि किसी छात्र के मौलिक चिंतन को उसकी मातृ भाषा में आसानी से विकसित किया जा सकता है और मौलिक चिंतन तथा अनुसंधान के बीच मजबूत संबंध है।  इतिहास की शिक्षा पर अमित शाह ने कहा कि वह छात्रों से 300 जननायकों का अध्ययन करने का अनुरोध करते हैं, जिन्हें इतिहासकारों ने उचित श्रेय नहीं दिया और साथ ही 30 ऐसे साम्राज्यों के बारे में जानने का अनुरोध करते हैं, जिन्होंने भारत पर राज किया और शासन का बहुत अच्छा मॉडल स्थापित किया। उन्होंने कहा कि अब वक्त आ गया है कि लोग और छात्र देश के असली इतिहास के बारे में जानें।

चिकित्सा, तकनीक और कानून के क्षेत्र में हिंदी या क्षेत्रीय भाषाओं को मिले बढ़ावा
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि राज्यों को चिकित्सा, तकनीक और कानून के क्षेत्र में हिंदी या क्षेत्रीय भाषाओं में शिक्षा को बढ़ावा देने की पहल करनी चाहिए, ताकि देश गैर-अंग्रेजी भाषी छात्रों की प्रतिभा का इस्तेमाल कर सके। हिंदी और क्षेत्रीय भाषाओं में शिक्षा की महत्ता पर जोर देते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता शाह ने कहा कि अगर छात्रों को उनकी मातृ भाषा में पढ़ाया जाए तो उनमें आसानी से मौलिक चिंतन की प्रक्रिया विकसित हो सकती है और इससे अनुसंधान तथा नवोन्मेष को बढ़ावा मिलेगा।

विस्तार

गुजरात में एक दिसंबर को पहले चरण की वोटिंग से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आम आदमी पार्टी पर जोरदार हमला बोला।  गुजरात विधानसभा चुनाव में आप के उतरने के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि हर पार्टी को चुनाव लड़ने का अधिकार है, लेकिन यह लोगों पर निर्भर है कि वे पार्टी को स्वीकार करते हैं या नहीं। उन्होंने कहा कि गुजरात के लोगों के दिमाग में आप कहीं नहीं है। चुनाव नतीजों का इंतजार कीजिए, शायद सफल उम्मीदवारों की सूची में आप का नाम न आए। कांग्रेस पर शाह ने कहा कि यह अभी भी मुख्य विपक्षी पार्टी है, लेकिन पार्टी संकट के दौर से गुजर रही है, और इसका असर गुजरात में भी दिखाई दे रहा है। 

 

हमें पीएम मोदी पर पूरा भरोसा: अमित शाह

समाचार एजेंसी पीटीआई को दिए एक साक्षात्कार में अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता, राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान गुजरात के सर्वांगीण विकास और जीरो तुष्टिकरण नीति को लागू करने को पिछले कुछ वर्षों में लोगों द्वारा बार-बार भाजपा में विश्वास जताने का मुख्य कारण बताया।  शाह ने कहा कि भाजपा गुजरात में अभूतपूर्व जीत दर्ज करेगी। लोगों को हमारी पार्टी और हमारे नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पूरा भरोसा है।

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर दिया जवाब

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के बारे में पूछे जाने पर शाह ने कहा कि राजनीति में निरंतर प्रयास जरूरी हैं। उन्होंने कहा मेरा हमेशा से मानना रहा है कि राजनेताओं को कड़ी मेहनत करने की जरूरत है और यह अच्छा है जब कोई कड़ी मेहनत करता है। लेकिन राजनीति में निरंतर प्रयास ही परिणाम दिखाते हैं। इसलिए इंतजार करें और देखें। 

अमित शाह ने छात्रों को पढ़ाया पाठ

अमित शाह ने कहा कि किसी छात्र के मौलिक चिंतन को उसकी मातृ भाषा में आसानी से विकसित किया जा सकता है और मौलिक चिंतन तथा अनुसंधान के बीच मजबूत संबंध है।  इतिहास की शिक्षा पर अमित शाह ने कहा कि वह छात्रों से 300 जननायकों का अध्ययन करने का अनुरोध करते हैं, जिन्हें इतिहासकारों ने उचित श्रेय नहीं दिया और साथ ही 30 ऐसे साम्राज्यों के बारे में जानने का अनुरोध करते हैं, जिन्होंने भारत पर राज किया और शासन का बहुत अच्छा मॉडल स्थापित किया। उन्होंने कहा कि अब वक्त आ गया है कि लोग और छात्र देश के असली इतिहास के बारे में जानें।

चिकित्सा, तकनीक और कानून के क्षेत्र में हिंदी या क्षेत्रीय भाषाओं को मिले बढ़ावा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि राज्यों को चिकित्सा, तकनीक और कानून के क्षेत्र में हिंदी या क्षेत्रीय भाषाओं में शिक्षा को बढ़ावा देने की पहल करनी चाहिए, ताकि देश गैर-अंग्रेजी भाषी छात्रों की प्रतिभा का इस्तेमाल कर सके। हिंदी और क्षेत्रीय भाषाओं में शिक्षा की महत्ता पर जोर देते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता शाह ने कहा कि अगर छात्रों को उनकी मातृ भाषा में पढ़ाया जाए तो उनमें आसानी से मौलिक चिंतन की प्रक्रिया विकसित हो सकती है और इससे अनुसंधान तथा नवोन्मेष को बढ़ावा मिलेगा।





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img