Tuesday, December 6, 2022
HomeTrending NewsGujarat Violence 2022, Gujarat Ram Navami Violence, Vadodara Violence, Gujarat Hinsa -...

Gujarat Violence 2022, Gujarat Ram Navami Violence, Vadodara Violence, Gujarat Hinsa – Gujarat Violence: गुजरात में हर त्योहार पर सांप्रदायिक बवाल, इससे पहले कब-कब हुई हिंसा? पढ़ें पूरी रिपोर्ट


गुजरात में हिंसा

गुजरात में हिंसा
– फोटो : PTI

ख़बर सुनें

गुजरात में पिछले एक साल से हर त्योहार पर सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं सामने आ रही हैं। ताजा मामला है वडोदरा में जहां दिवाली की देर रात दो गुटों में सांप्रदायिक हिंसक झड़प हो गई। इस दौरान जमकर पत्थरबाजी और आगजनी की गई। इतना ही नहीं उपद्रवियों ने पुलिस के सामने ही पेट्रोल बम भी फेंके। लेकिन इन सब के बीच सवाल यह उठ रहा है कि आखिर त्योहार पर ये हिंसक घटनाएं क्यो हो रही हैं? इससे पहले दशहरा, रामनवमी, नवरात्रि के मौके पर भी कई सांप्रदायिक हिंसा हुई थी। आइए जानते हैं इस साल किन-किन त्योहारों पर सांप्रदायिक घटनाएं हुईं…

दिवाली पर दो गुटों के बीच झड़प
गुजरात के वडोदरा में दिवाली की देर रात सांप्रदायिक हिंसा हो गई।  इस दौरान जमकर पत्थरबाजी,आगजनी और तोड़फोड़ की गई।  यह घटना पानीगेट के मुस्लिम मेडिकल सेंटर के पास की बताई जा रही है। बदमाशों के हौसले इतने बुलंद थे कि सभी ने पुलिस के ऊपर पेट्रोल बम भी फेंक दिए। इतना ही नहीं स्ट्रीट लाइट पर भी पत्थर चलाए और जमकर बवाल काटा। डीसीपी यशपाल जगनिया ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और 19 लोगों को हिरासत में ले लिया। सभी से कड़ी पूछताछ की जा रही है। स्थिति फिलहाल पूरी तरह से नियंत्रण में है। डीसीपी ने बताया कि सीसीटीवी की जांच की जा रही है और चश्मदीदों से भी पूछताछ की जा रही है। 

नवरात्रि में भी हुआ था बवाल
इससे पहले नवरात्रि में भी गुजरात के दो शहरों में सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया था। खेड़ा में नवरात्रि आयोजन पर पथराव किया गया, जिसमें आधा दर्जन लोग जख्मी हो गए। दूसरी तरफ वडोदरा के सावली कस्बे में भी दो पक्ष आपस में भिड़ गए थे। यहां भी पथराव हुआ और कुछ गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया गया। पुलिस ने दोनों पक्षों से 40 लोगों को गिरफ्तार कर लिया था। 

रामनवमी पर सांप्रदायिक हिंसा
गुजरात के दो शहरों में रामनवमी के जुलूस के दौरान हिंसा की घटनाएं सामने आई थीं।  हिम्मतनगर और खंभात शहर में रामनवमी के जुलूस के दौरान दो समुदायों के बीच सांप्रदायिक झड़प हो गई थी। इस दौरान लोगों ने एक-दूसरे पर पथराव भी किया। इससे कई दुकानें और वाहनों को नुकसान पहुंचा था। खंभात में हुई सांप्रदायिक झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि एक अन्य घायल हो गया। 

विस्तार

गुजरात में पिछले एक साल से हर त्योहार पर सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं सामने आ रही हैं। ताजा मामला है वडोदरा में जहां दिवाली की देर रात दो गुटों में सांप्रदायिक हिंसक झड़प हो गई। इस दौरान जमकर पत्थरबाजी और आगजनी की गई। इतना ही नहीं उपद्रवियों ने पुलिस के सामने ही पेट्रोल बम भी फेंके। लेकिन इन सब के बीच सवाल यह उठ रहा है कि आखिर त्योहार पर ये हिंसक घटनाएं क्यो हो रही हैं? इससे पहले दशहरा, रामनवमी, नवरात्रि के मौके पर भी कई सांप्रदायिक हिंसा हुई थी। आइए जानते हैं इस साल किन-किन त्योहारों पर सांप्रदायिक घटनाएं हुईं…

दिवाली पर दो गुटों के बीच झड़प

गुजरात के वडोदरा में दिवाली की देर रात सांप्रदायिक हिंसा हो गई।  इस दौरान जमकर पत्थरबाजी,आगजनी और तोड़फोड़ की गई।  यह घटना पानीगेट के मुस्लिम मेडिकल सेंटर के पास की बताई जा रही है। बदमाशों के हौसले इतने बुलंद थे कि सभी ने पुलिस के ऊपर पेट्रोल बम भी फेंक दिए। इतना ही नहीं स्ट्रीट लाइट पर भी पत्थर चलाए और जमकर बवाल काटा। डीसीपी यशपाल जगनिया ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और 19 लोगों को हिरासत में ले लिया। सभी से कड़ी पूछताछ की जा रही है। स्थिति फिलहाल पूरी तरह से नियंत्रण में है। डीसीपी ने बताया कि सीसीटीवी की जांच की जा रही है और चश्मदीदों से भी पूछताछ की जा रही है। 

नवरात्रि में भी हुआ था बवाल

इससे पहले नवरात्रि में भी गुजरात के दो शहरों में सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया था। खेड़ा में नवरात्रि आयोजन पर पथराव किया गया, जिसमें आधा दर्जन लोग जख्मी हो गए। दूसरी तरफ वडोदरा के सावली कस्बे में भी दो पक्ष आपस में भिड़ गए थे। यहां भी पथराव हुआ और कुछ गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया गया। पुलिस ने दोनों पक्षों से 40 लोगों को गिरफ्तार कर लिया था। 

रामनवमी पर सांप्रदायिक हिंसा

गुजरात के दो शहरों में रामनवमी के जुलूस के दौरान हिंसा की घटनाएं सामने आई थीं।  हिम्मतनगर और खंभात शहर में रामनवमी के जुलूस के दौरान दो समुदायों के बीच सांप्रदायिक झड़प हो गई थी। इस दौरान लोगों ने एक-दूसरे पर पथराव भी किया। इससे कई दुकानें और वाहनों को नुकसान पहुंचा था। खंभात में हुई सांप्रदायिक झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि एक अन्य घायल हो गया। 





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img