Wednesday, February 1, 2023
HomeTrending NewsImran Masood From Saharanpur Left Sp And Joined Bsp In Lucknow, Assumed...

Imran Masood From Saharanpur Left Sp And Joined Bsp In Lucknow, Assumed Membership – Saharanpur: कद्दावर नेता इमरान मसूद सपा छोड़ बसपा में शामिल हुए, लखनऊ में ग्रहण की सदस्यता


बसपा सुप्रीमो मायावती के साथ इमरान मसूद

बसपा सुप्रीमो मायावती के साथ इमरान मसूद
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश के कद्दावर नेता इमरान मसूद ने सपा छोड़कर बसपा बसपा का दामन थाम लिया है। दरअसल, नौ माह पहले जनवरी में विधानसभा चुनाव की घोषणा होते ही कांग्रेस छोड़ कर सपा में शामिल हुए थे। वह बेहट और देहात सीट से विधानसभा चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उन्हें कोई तवोज्जो नहीं दी, जिस कारण वह विधानसभा चुनाव नहीं लड़ सके। एमएलसी चुनाव में भी सपा ने उन्हें निराश किया था। पिछले कुछ दिनों से वह मेयर के चुनाव की तैयारी में लगे हैं।

सीट आरक्षण के अनुसार इमरान अपने परिजनों को मेयर का चुनाव जरुर लड़ाएंगे। इसके लिए वह सपा की साइकिल की सवारी छोड़कर बसपा के हाथी पर सवार होने की तैयारी में लगे थे। दो सप्ताह पहले उनके बसपा सुप्रीमो मायावती से भेंट भी हो चुकी थी।

यह भी पढ़ें: Meerut: किसान मेले का मंत्री संजीव बालियान ने किया उद्घाटन, 20 लाख के डॉग्स और 10 करोड़ का भैंसा बना आकर्षण

बुधवार को इमरान मसूद ने लखनऊ में बसपा कार्यालय पर मायावती के समक्ष सपा छोड़कर बसपा में शामिल होने की घोषणा की। मायावती ने उन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराते हुए आशीर्वाद दिया।

बसपा भापा को हराने में सक्षम: इमरान मसूद
 इमरान मसूद ने कहा कि कि बसपा ही भाजपा को हराने में सक्षम है। विधानसभा चुनाव के दौरान वह कांग्रेस छोड़कर सपा में इसलिए आए थे कि भाजपा को हराने का प्रयोग किया जाएगा, लेकिन यह प्रयोग सफल नहीं हो सका। हमारे समाज में एक तरफा वोट सपा को दिया लेकिन सपा सफल नहीं हो सकी।

उन्होंने कहा कि अब हम एक ताकत बनकर बसपा को जीत की ओर ले जाएंगे। आने वाले निकाय चुनाव और 2024 के लोकसभा चुनाव में बसपा को जीत दिलाएंगे।

विस्तार

उत्तर प्रदेश के कद्दावर नेता इमरान मसूद ने सपा छोड़कर बसपा बसपा का दामन थाम लिया है। दरअसल, नौ माह पहले जनवरी में विधानसभा चुनाव की घोषणा होते ही कांग्रेस छोड़ कर सपा में शामिल हुए थे। वह बेहट और देहात सीट से विधानसभा चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उन्हें कोई तवोज्जो नहीं दी, जिस कारण वह विधानसभा चुनाव नहीं लड़ सके। एमएलसी चुनाव में भी सपा ने उन्हें निराश किया था। पिछले कुछ दिनों से वह मेयर के चुनाव की तैयारी में लगे हैं।

सीट आरक्षण के अनुसार इमरान अपने परिजनों को मेयर का चुनाव जरुर लड़ाएंगे। इसके लिए वह सपा की साइकिल की सवारी छोड़कर बसपा के हाथी पर सवार होने की तैयारी में लगे थे। दो सप्ताह पहले उनके बसपा सुप्रीमो मायावती से भेंट भी हो चुकी थी।

यह भी पढ़ें: Meerut: किसान मेले का मंत्री संजीव बालियान ने किया उद्घाटन, 20 लाख के डॉग्स और 10 करोड़ का भैंसा बना आकर्षण

बुधवार को इमरान मसूद ने लखनऊ में बसपा कार्यालय पर मायावती के समक्ष सपा छोड़कर बसपा में शामिल होने की घोषणा की। मायावती ने उन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराते हुए आशीर्वाद दिया।

बसपा भापा को हराने में सक्षम: इमरान मसूद

 इमरान मसूद ने कहा कि कि बसपा ही भाजपा को हराने में सक्षम है। विधानसभा चुनाव के दौरान वह कांग्रेस छोड़कर सपा में इसलिए आए थे कि भाजपा को हराने का प्रयोग किया जाएगा, लेकिन यह प्रयोग सफल नहीं हो सका। हमारे समाज में एक तरफा वोट सपा को दिया लेकिन सपा सफल नहीं हो सकी।

उन्होंने कहा कि अब हम एक ताकत बनकर बसपा को जीत की ओर ले जाएंगे। आने वाले निकाय चुनाव और 2024 के लोकसभा चुनाव में बसपा को जीत दिलाएंगे।





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img