Sunday, February 5, 2023
HomeTrending NewsIsi Wanted To Do Bomb Blasts In Delhi And Target Killing Rinda...

Isi Wanted To Do Bomb Blasts In Delhi And Target Killing Rinda And Landa Disclosed Plan – Delhi: धमाके कर टॉरगेट किलिंग करवाना चाहती थी Isi, पाकिस्तान से आया 10 किलो Rdx; राजधानी में हो चुकी थी रैकी


isi

isi
– फोटो : फाइल फोटो

ख़बर सुनें

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई दिल्ली में बड़े पैमाने पर बम धमाका करवाकर टागरेट किलिंग करवाना चहाती थी। इसके लिए आईएसआई बब्बर खालसा इंटरनेशनल (बीकेआई) व स्थानीय गैंगस्टर का सहारा ले रही है। दिल्ली में बम धमाकों के लिए 10 किलो आरडीएक्स पाकिस्तान से ड्रोन के जरिए पंजाब, भारत में भेजा गया था। इन आईईडी को दिल्ली भेजा जाता उससे पहले ही पंजाब पुलिस ने मादक पदार्थ तस्कर नक्षातर को गिरफ्तार कर लिया था। बम धमाकों के लिए बीकेआई आतंकी हरविंदर रिंदा व लखबीर उर्फ हरिके लांडा ने दिल्ली में रैकी करवा ली थी। उसके कब्जे से पंजाब पुलिस ने चार आईईडी को बरामद की थीं। दूसरी तरफ मोहाली आरपीजी (रॉकेट चालित ग्रेनेड) हमले के बाद आरोपी दीपक सुरखपुर व किशोर को लखविंदर सिंह उर्फ हरिक लांडा ने जाम नगर, गुजरात में ठहराया था। 

दिल्ली पुलिस की स्पेशल ने मोहाली आरपीजी हमले के मास्टरमाइंड में से एक आरोपी 17 वर्षीय किशोर को जाम नगर, गुजरात से बृहस्पतिवार को पकड़ा था। उसके साथ गैंगस्टर अर्शदीप भी गिरफ्तार किया गया था। स्पेशल सेल ने अर्शदीप को एक सप्ताह के पुलिस रिमांड पर ले रखा है। किशोर को शुक्रवार को बाल सुधार गृह भेज दिया गया था। उसे पूछताछ के लिए सोमवार को हिरासत में लिया जाएगा। अर्शदीप शाहाबाद, कुरक्षेत्र व सरहाली, तरण-तारण पंजाबी से बरामद आईईडी मामले में वांछित है। अर्शदीप ने बताया कि दो-दो करके दो बार में चार बम ड्रोन के जरिए पाकिस्तान से पंजाब भेजे गए थे। मादक पदार्थ तस्कर नक्षातर ने उसे चारों बम लाकर दिए थे। एक आईर्ईडी में ढ़ाई किलो आरडीएक्स था। बाद में जब अर्शदीप के लड़के कुरुक्षेत्र में पकड़े गए तो उसने बम नक्षातर को वापस दे दिए थे। पंजाब पुलिस ने नक्षातर से ये बम बरामद किए थे।

अर्शदीप ने पूछताछ में खुलासा किया है कि नक्षातर ने ये बम किसी को देने के लिए बोला था। इन बम धमाकों का इस्मेताल दिल्ली में होना था। बम धमाका कर टॉरगेट किलिंग करनी थी। रिंदा व लांडा ने बम धमाकों के लिए किसी और गुट को जिम्मा दिया था। उसी गुट से दिल्ली में बम धमाकों के लिए रैकी करवाई थी। स्पेशल सेल इस गुट के लोगों की तलाश कर रही है। दूसरी तरफ मोहाली आरपीजी हमले के बाद किशोर व दीपक सुरखपुरिया को लांडा ने जाम नगर, गुजरात में ठहराया था। 

दीपक व किशोर में झगड़ा हो गया था
मोहाली आरपीजी हमले के आरोपी दीपक सुरखपुर व किशोर में पैसे को लेकर झगड़ा हो गया था। इन दोनों की लड़ाई पाकिस्तान में बैठे रिंदा तक पहुंच गई थी। रिंदा ने इन दोनों को अलग करवाया था। दीपक को जाम नगर से दूसरे राज्य में भेज दिया गया था। इन दोनों को वेस्टर्न यूनियन के जरिए हर महीने पाकिस्तान से पैसे भेजे जाते थे। जितना बड़ा काम होता था उसी हिसाब से पैसे दिए जाते थे। फिलहाल इनको 50 हजार से एक लाख रुपये हर महीने मिल रहे थे। 

खुफिया एजेंसियां कर रही हैं पूछताछ
स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि खुफिया एजेंसियां शनिवार को पूछताछ करने स्पेशल सेल के कार्यालय पहुंची। खुफिया एजेंसियों ने अर्शदीप से कई घंटे पूछताछ की। इसके अलावा अन्य राज्यों की पुलिस भी स्पेशल सेल के कार्यालय पहुंच रही हैं। 

विस्तार

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई दिल्ली में बड़े पैमाने पर बम धमाका करवाकर टागरेट किलिंग करवाना चहाती थी। इसके लिए आईएसआई बब्बर खालसा इंटरनेशनल (बीकेआई) व स्थानीय गैंगस्टर का सहारा ले रही है। दिल्ली में बम धमाकों के लिए 10 किलो आरडीएक्स पाकिस्तान से ड्रोन के जरिए पंजाब, भारत में भेजा गया था। इन आईईडी को दिल्ली भेजा जाता उससे पहले ही पंजाब पुलिस ने मादक पदार्थ तस्कर नक्षातर को गिरफ्तार कर लिया था। बम धमाकों के लिए बीकेआई आतंकी हरविंदर रिंदा व लखबीर उर्फ हरिके लांडा ने दिल्ली में रैकी करवा ली थी। उसके कब्जे से पंजाब पुलिस ने चार आईईडी को बरामद की थीं। दूसरी तरफ मोहाली आरपीजी (रॉकेट चालित ग्रेनेड) हमले के बाद आरोपी दीपक सुरखपुर व किशोर को लखविंदर सिंह उर्फ हरिक लांडा ने जाम नगर, गुजरात में ठहराया था। 





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img