Tuesday, October 4, 2022
spot_img
HomeTrending NewsKarwa Chauth 2020: जानें कब है पूजा का शुभ मुहूर्त और कब...

Karwa Chauth 2020: जानें कब है पूजा का शुभ मुहूर्त और कब निकलेगा करवा चौथ का चांद

Karwa Chauth 2020: Puja, Date, Muhurat Timing

कल यानी 4 नवंबर को करवा चौथ का व्रत है। यह व्रत हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष के चतुर्थी को मनाया जाता है, इस व्रत में शादी शुदा महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं। इस दिन सुहागिन महिलाए पूरे दिन निर्जल रहती हैं, यानी अन्न-जल भी ग्रहण नहीं करती है। महिलाएं पूजा अर्चना विधि पूर्वक करके एवम रात में चांद को देखने के बाद ही अपना व्रत खोलती है। आइए हम जानते है कि इस बार के करवा चौथ में चांद कितने बजे तक निकलेगा ताकि महिलाओं का व्रत संपन्न होगा।

Karwa Chauth 2020: Puja, Date, Muharat Timing

चांद निकलने का समय:

करवा चौथ चंद्रोदय समय 8:12 मिनट पर है।

करवा चौथ का शुभ मुहूर्त:

करवा चौथ पूजन का सबसे अच्छा मुहूर्त 5:34 मिनट से लेकर 6:39 तक है।

करवा चौथ पूजा अर्चना विधि:

करवा चौथ का व्रत सूर्योदय से पहले यानी कि सुबह 4:00 बजे के बाद प्रारंभ हो जाता है । कार्तिक मास के इस व्रत में सरगी खाने का खास महत्व होता है । इस दिन महिलाएं अपने सास से मिली सरगी को खाकर व्रत की शुरुआत करती है । यह सरगी उन्हें सुबह 4:00 बजे से पहले खाना होता है, क्योंकि सुबह 4:00 बजे के बाद से ही करवा चौथ व्रत की शुरुआत हो जाती है।

सबसे पहले इस पूजा में मिट्टी की एक वेदी बनाई जाती है , जिस पर देवी-देवताओं को स्थापित की जाती है ।

वहीं पर महिलाएं बैठकर पूजा पाठ करती हैं और व्रत कथा को सुनती है । तत्पश्चात चांद निकलने से पूर्व अपने थाली में जितनी भी पूजा पाठ की सामग्री होती है उसे सजा कर रख लेती है जैसे- धूप ,दीप ,अगरबत्ती, चंदन, रोली , सिंदूर , फूल, फल, अक्षत इत्यादि । उसके पश्चात चंद्रमा को अरग देती हैं क्योंकी महिलाए रात में चांद देखने के बाद ही इस व्रत को खोलती हैं । चन्द्र पूजा संपन्न करके सुहागिन औरते अपने पति के हाथों से पानी पीकर अपना व्रत खोल देती हैं । जिन महिलाओं का पति करवा चौथ के समय अपने घर से दूर होते हैं, वे महिलाए चंद्रमा को अर्घ्य देकर स्वयं ही व्रत खोल लेती हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments