Wednesday, February 1, 2023
HomeTrending NewsNext 2-3 Days Telangana Very Likely To Have Light To Moderate Rains...

Next 2-3 Days Telangana Very Likely To Have Light To Moderate Rains Know All About Weather Updates – Weather Updates: दिल्ली-यूपी को कब मिलेगी बारिश से राहत? इन राज्यों में आज भी बरसेंगे बदरा, जानें आज का मौसम


असम में ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर बढ़ा, डिब्रूगढ़ के कई हिस्सों में जलभराव।

असम में ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर बढ़ा, डिब्रूगढ़ के कई हिस्सों में जलभराव।
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

दिल्ली-एनसीआर में लगातार जारी बारिश के दौर के बीच सोमवार को सभी शहरों की हवा साफ श्रेणी में दर्ज हुई है। इस सीजन में पहली बार है जब सभी शहरों की हवा साफ श्रेणी में पहुंची है। वायु मानक एजेंसियों का पूर्वानुमान है कि बारिश के मौसम की वजह से अगले तीन दिनों तक हवा की गुणवत्ता में अधिक बदलाव होने की संभावना नहीं है। 

वहीं, उत्तर प्रदेश में बारिश से राहत के आसार अभी नहीं दिख रहे। मौसम विभाग ने मंगलवार के लिए फिर प्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। बारिश की चेतावनी की वजह से लखनऊ में बारहवीं कक्षा तक के सभी बच्चों के लिए स्कूल बंद कर दिए गए हैं। सोमवार को भी स्कूल बंद रहे। साथ ही तेलंगाना के कई जिलों में अगले दो से तीन दिनों तक हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है।

दिल्ली और यूपी को बारिश से कब मिलेगी राहत?
मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली और उत्तर प्रदेश में बारिश से अगले 24 घंटे तक राहत नहीं मिलने वाली है। बुधवार दोपहर से आसमान से बादल छंटने के आसार हैं। यानी कि बुधवार शाम से या गुरुवार सुबह से धूप निकल सकती है।

यूपी के कई जिलों में आज भी अलर्ट
उत्तर प्रदेश के गोंडा, बाराबंकी, बहराइच, श्रावस्ती और बलरामपुर में ऑरेंज (अत्यधिक), जबकि 58 जिलों में येलो (भारी) अलर्ट जारी किया गया है। उधर, रविवार शाम सात बजे से सोमवार सुबह 8.50 बजे तक 130 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है। लखनऊ समेत कुछ जिलों में दोपहर एक बजे से मौसम साफ होने से लोगों को कुछ राहत मिली।

गोरखपुर, संत कबीर नगर, बस्ती, कुशीनगर, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, सीतापुर, हरदोई, कानपुर नगर, उन्नाव, लखनऊ, रायबरेली, अमेठी, अयोध्या, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर व आसपास भारी बारिश की चेतावनी है। वहीं, बुधवार को लखनऊ समेत कई इलाकों को चेतावनी से बाहर कर प्रतापगढ़, सोनभद्र, मिर्जापुर, चंदौली, वाराणसी, संत रविदासनगर समेत कई जिलों में गरज चमक का अनुमान है। बांदा, चित्रकूट, प्रयागराज, श्रावस्ती, बहराइच, लखीमपुर और आसपास के इलाकों में बारिश हो सकती है। इससे पहले पांच अक्तूबर को 38.8 मिमी बारिश हुई थी। वहीं, एक से 10 अक्तूबर तक सबसे ज्यादा बारिश श्रावस्ती (404.7 मिमी), लखीमपुर खीरी (323.7 मिमी) और बाराबंकी (275.0 मिमी) में हुई है। 
 

लखनऊ के लिए आज भी येलो अलर्ट
लखनऊ में रविवार शाम से शुरू हुई बारिश ने बीते एक दशक का रिकॉर्ड तोड़ दिया। जितना पानी वर्ष 2009 से लेकर 2021 तक अक्तूबर में पूरे माह नहीं बरसा, उतना इस बार महीने के एक दिन में बरस गया। रविवार शाम सात बजे से सोमवार दोपहर एक बजे तक बिना रुके लगातार पानी गिरा। इन 18 घंटों में लखनऊ में 116 मिमी. बरसात रिकॉर्ड की गई। मंगलवार के लिए भी येलो अलर्ट जारी किया गया है। 

यूपी में भारी बारिश से 30 की मौत
उत्तर प्रदेश में सोमवार को कई जिलों में मकान व बिजली गिरने से 30 लोगों की मौत हो गई। झांसी में छह, फतेहपुर में चार, कानपुर में तीन, मैनपुरी, जालौन और बांदा में दो-दो की मौत हो गई। बलरामपुर, अमेठी, सीतापुर, अयोध्या, अंबेडकरनगर, गजरौला, मऊ, अमरोहा, कन्नौज, हमीरपुर और उन्नाव में एक-एक मौत की सूचना है। वहीं, मैनपुरी में बर्बाद फसल देखकर दिल का दौरा पड़ने से तीन किसानों की मौत हो गई।

तमिलनाडु के कई जिलों में बारिश की चेतावनी
तमिलनाडु के तिरुपथुर जिला कलेक्टर ने भारी बारिश की चेतावनी के कारण जिले के स्कूलों और कॉलेजों में आज छुट्टी घोषित कर दी है राज्य के कोयंबटूर, तिरुपुर, डिंडीगुल, थेनी, मदुरै, करूर, इरोड, नमक्कल, सेलम जिलों में भी भारी बारिश की संभावना है।

तेलंगाना के कई जिलों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) हैदराबाद की निदेशक डॉ के नागरत्ना ने बताया कि वर्तमान में समसामयिक स्थितियों से संकेत मिलता है कि उत्तरी तमिलनाडु और उसके आसपास के क्षेत्रों में एक सीधा चक्रवाती तूफान का परिसंचरण हो रहा है। इस सीधे चक्रवाती परिसंचरण से रायलसीमा, तेलंगाना, विदर्भ और पश्चिम मध्य प्रदेश के साथ एक ट्रफ रेखा चल रही है। उन्होंने बताया कि इसके प्रभाव से अगले दो से तीन दिनों तक तेलंगाना के कई जिलों के कई हिस्सों में, विशेष रूप से उत्तर-पश्चिमी और उत्तरपूर्वी जिलों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। उसके बाद, उत्तरी तेलंगाना में बारिश में कमी आएगी, लेकिन बारिश के दक्षिणी, मध्य और पूर्वी जिलों की ओर बढ़ने की संभावना है। तेलंगाना के पश्चिमी और उत्तरी जिलों में मंगलवार के लिए येलो अलर्ट और राज्य के पश्चिमी हिस्से में भारी बारिश की संभावना है।

असम में बढ़ा ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर
असम में लगातार हो रही बारिश की वजह से ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर बढ़ गया है। साथ ही डिब्रूगढ़ के कई हिस्सों में जलभराव हुआ है।

ग्वालियर में भारी बारिश
मध्य प्रदेश के ग्वालियर में कई हिस्सों में भारी बारिश हुई। बारिश के कारण सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ।
 

विस्तार

दिल्ली-एनसीआर में लगातार जारी बारिश के दौर के बीच सोमवार को सभी शहरों की हवा साफ श्रेणी में दर्ज हुई है। इस सीजन में पहली बार है जब सभी शहरों की हवा साफ श्रेणी में पहुंची है। वायु मानक एजेंसियों का पूर्वानुमान है कि बारिश के मौसम की वजह से अगले तीन दिनों तक हवा की गुणवत्ता में अधिक बदलाव होने की संभावना नहीं है। 

वहीं, उत्तर प्रदेश में बारिश से राहत के आसार अभी नहीं दिख रहे। मौसम विभाग ने मंगलवार के लिए फिर प्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। बारिश की चेतावनी की वजह से लखनऊ में बारहवीं कक्षा तक के सभी बच्चों के लिए स्कूल बंद कर दिए गए हैं। सोमवार को भी स्कूल बंद रहे। साथ ही तेलंगाना के कई जिलों में अगले दो से तीन दिनों तक हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है।

दिल्ली और यूपी को बारिश से कब मिलेगी राहत?

मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली और उत्तर प्रदेश में बारिश से अगले 24 घंटे तक राहत नहीं मिलने वाली है। बुधवार दोपहर से आसमान से बादल छंटने के आसार हैं। यानी कि बुधवार शाम से या गुरुवार सुबह से धूप निकल सकती है।

यूपी के कई जिलों में आज भी अलर्ट

उत्तर प्रदेश के गोंडा, बाराबंकी, बहराइच, श्रावस्ती और बलरामपुर में ऑरेंज (अत्यधिक), जबकि 58 जिलों में येलो (भारी) अलर्ट जारी किया गया है। उधर, रविवार शाम सात बजे से सोमवार सुबह 8.50 बजे तक 130 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है। लखनऊ समेत कुछ जिलों में दोपहर एक बजे से मौसम साफ होने से लोगों को कुछ राहत मिली।

गोरखपुर, संत कबीर नगर, बस्ती, कुशीनगर, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, सीतापुर, हरदोई, कानपुर नगर, उन्नाव, लखनऊ, रायबरेली, अमेठी, अयोध्या, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर व आसपास भारी बारिश की चेतावनी है। वहीं, बुधवार को लखनऊ समेत कई इलाकों को चेतावनी से बाहर कर प्रतापगढ़, सोनभद्र, मिर्जापुर, चंदौली, वाराणसी, संत रविदासनगर समेत कई जिलों में गरज चमक का अनुमान है। बांदा, चित्रकूट, प्रयागराज, श्रावस्ती, बहराइच, लखीमपुर और आसपास के इलाकों में बारिश हो सकती है। इससे पहले पांच अक्तूबर को 38.8 मिमी बारिश हुई थी। वहीं, एक से 10 अक्तूबर तक सबसे ज्यादा बारिश श्रावस्ती (404.7 मिमी), लखीमपुर खीरी (323.7 मिमी) और बाराबंकी (275.0 मिमी) में हुई है। 

 

लखनऊ के लिए आज भी येलो अलर्ट

लखनऊ में रविवार शाम से शुरू हुई बारिश ने बीते एक दशक का रिकॉर्ड तोड़ दिया। जितना पानी वर्ष 2009 से लेकर 2021 तक अक्तूबर में पूरे माह नहीं बरसा, उतना इस बार महीने के एक दिन में बरस गया। रविवार शाम सात बजे से सोमवार दोपहर एक बजे तक बिना रुके लगातार पानी गिरा। इन 18 घंटों में लखनऊ में 116 मिमी. बरसात रिकॉर्ड की गई। मंगलवार के लिए भी येलो अलर्ट जारी किया गया है। 

यूपी में भारी बारिश से 30 की मौत

उत्तर प्रदेश में सोमवार को कई जिलों में मकान व बिजली गिरने से 30 लोगों की मौत हो गई। झांसी में छह, फतेहपुर में चार, कानपुर में तीन, मैनपुरी, जालौन और बांदा में दो-दो की मौत हो गई। बलरामपुर, अमेठी, सीतापुर, अयोध्या, अंबेडकरनगर, गजरौला, मऊ, अमरोहा, कन्नौज, हमीरपुर और उन्नाव में एक-एक मौत की सूचना है। वहीं, मैनपुरी में बर्बाद फसल देखकर दिल का दौरा पड़ने से तीन किसानों की मौत हो गई।

तमिलनाडु के कई जिलों में बारिश की चेतावनी

तमिलनाडु के तिरुपथुर जिला कलेक्टर ने भारी बारिश की चेतावनी के कारण जिले के स्कूलों और कॉलेजों में आज छुट्टी घोषित कर दी है राज्य के कोयंबटूर, तिरुपुर, डिंडीगुल, थेनी, मदुरै, करूर, इरोड, नमक्कल, सेलम जिलों में भी भारी बारिश की संभावना है।

तेलंगाना के कई जिलों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) हैदराबाद की निदेशक डॉ के नागरत्ना ने बताया कि वर्तमान में समसामयिक स्थितियों से संकेत मिलता है कि उत्तरी तमिलनाडु और उसके आसपास के क्षेत्रों में एक सीधा चक्रवाती तूफान का परिसंचरण हो रहा है। इस सीधे चक्रवाती परिसंचरण से रायलसीमा, तेलंगाना, विदर्भ और पश्चिम मध्य प्रदेश के साथ एक ट्रफ रेखा चल रही है। उन्होंने बताया कि इसके प्रभाव से अगले दो से तीन दिनों तक तेलंगाना के कई जिलों के कई हिस्सों में, विशेष रूप से उत्तर-पश्चिमी और उत्तरपूर्वी जिलों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। उसके बाद, उत्तरी तेलंगाना में बारिश में कमी आएगी, लेकिन बारिश के दक्षिणी, मध्य और पूर्वी जिलों की ओर बढ़ने की संभावना है। तेलंगाना के पश्चिमी और उत्तरी जिलों में मंगलवार के लिए येलो अलर्ट और राज्य के पश्चिमी हिस्से में भारी बारिश की संभावना है।

असम में बढ़ा ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर

असम में लगातार हो रही बारिश की वजह से ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर बढ़ गया है। साथ ही डिब्रूगढ़ के कई हिस्सों में जलभराव हुआ है।

ग्वालियर में भारी बारिश

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में कई हिस्सों में भारी बारिश हुई। बारिश के कारण सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ।

 





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img