Friday, December 9, 2022
HomeTrending NewsPhoto Of Same Woman In 100 Voter Id In Ambala - Ambala:...

Photo Of Same Woman In 100 Voter Id In Ambala – Ambala: मतदाता सूची में कमाल, 100 वोटर Id पर एक महिला की फोटो, सात साल से ठीक कराने के लिए भटक रहे


चरणजीत कौर।

चरणजीत कौर।
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

ख़बर सुनें

पंचायत चुनाव से पहले अंबाला के ढकौला गांव के वार्ड नंबर छह की मतदाता सूची में कमाल देखने को मिला। इसमें एक ही महिला 75 वर्षीय चरणजीत कौर की फोटो 100 वोटर आईडी पर चस्पा कर दी गई। ऐसा अभी नहीं हुआ है बल्कि महिला पिछले सात साल से मतदाता सूची की यही स्थिति है जबकि महिला का कहना है कि वह इस बारे में कई बार शिकायत कर चुकी हैं लेकिन मतदाता सूची दुरुस्त नहीं हुई।

पंचायत चुनाव के मद्देनजर एक बार फिर से यह मतदाता सूची अंबाला के साहा क्षेत्र में चर्चा और हंगामे की वजह बनी हुई है क्योंकि इस त्रुटि पूर्ण सूची से क्षेत्र के अन्य ग्रामीण भी प्रभावित हो रहे हैं। उधर, ग्रामीणों के विरोध के बाद खंड एवं विकास पंचायत अधिकारी इस संदर्भ में एक जांच कमेटी भी बनाई है। चरणजीत कौर ढकौला गांव की रहने वाली हैं। महिला ने बताया कि सबसे पहले 2015 में यह गड़बड़ी उजागर हुई थी।

वर्ष 2019 के चुनावों में भी मतदाता सूची में सौ से अधिक वोटर कार्ड पर उसी की तस्वीर चस्पा थी। जिसे ठीक कराने के लिए वह पंचायत कार्यालय गई थी जहां उसने गुहार लगाई थी कि मतदाता सूची में शामिल अन्य वोटरों के नामों के सामने बने कॉलम से उसकी फोटो हटा दी जाए। इसके बावजूद उसकी समस्या का हल नहीं हुआ। महिला ने बताया कि मतदाता सूची में कई नाम पुरुषों के हैं लेकिन उनके कॉलम के सामने भी उसी की फोटो चस्पा है। 

यह भी पढ़ें : Karnal: करवा चौथ से पहले छिना सुहाग, हादसे में पति की मौत, पत्नी की हालत गंभीर, मेहंदी लगवा लौट रहा था दपंती

हैरानी की बात तो यह है कि गांव की जिन युवतियों की शादी हो चुकी है या जिन लोगों की मृत्यु हो चुकी है उनके नाम के सामने भी चरणजीत कौर की फोटो लगी है। इस संदर्भ में चरणजीत कौर के बेटे तेजिंद्र सिंह ने बताया कि मेरी माता की फोटो वार्ड की मतदाता सूची में अन्य मतदाताओं के नाम के सामने कॉलम में लगी हुई है।

हम कई बार पंचायत कार्यालय में गुहार लगा चुके हैं लेकिन कोई सुन ही नहीं रहा। बेटे ने बताया कि इस बात को लेकर हम बहुत परेशान हैं क्योंकि ग्रामीण इसका विरोध कर रहे हैं। हम प्रशासन से मांग करते हैं कि मतदाता सूची को दुरुस्त करे और उनकी माता की फोटो अन्य मतदाताओं की वोटर आईडी के सामने से हटवाएं और इस बात की जांच कराएं कि आखिरकार इतनी बड़ी त्रुटि कैसे हुई।

दूसरी ओर, इसी मामले में दो दिन तक ग्रामीणों के धरने के बाद बीडीपीओ ने जांच के लिए कमेटी गठित कर दी है। इसके बाद ग्रामीणों ने फिलहाल धरना स्थगित कर दिया। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि अगर दो दिन में इसका समाधान नहीं होता है तो वह दोबारा धरना देंगे। 

फर्जी वोटों का भी आरोप
पिछले दो दिन से वार्डबंदी को दुरुस्त करने की मांग को लेकर धरना दे रहे ग्रामीणों का कहना है कि उन्हें वोटर लिस्ट में फर्जी वोट भी मिली हैं। वोटर लिस्ट में आठ वार्डों की 1480 वोट दिखाई गई हैं। इनमें से 350 वोट फर्जी हैं। वार्ड- 2 की 192 में से 36 की, वार्ड-4 में 161 में 41 की और वार्ड-8 में 181 में से 18 की कई साल पहले मौत हो चुकी है। वहीं वार्ड-2 के वोटर को 7 में, वार्ड-3 के वोटर को पांच में और वार्ड-4 के वोटर को छह में शामिल किया गया है।

विस्तार

पंचायत चुनाव से पहले अंबाला के ढकौला गांव के वार्ड नंबर छह की मतदाता सूची में कमाल देखने को मिला। इसमें एक ही महिला 75 वर्षीय चरणजीत कौर की फोटो 100 वोटर आईडी पर चस्पा कर दी गई। ऐसा अभी नहीं हुआ है बल्कि महिला पिछले सात साल से मतदाता सूची की यही स्थिति है जबकि महिला का कहना है कि वह इस बारे में कई बार शिकायत कर चुकी हैं लेकिन मतदाता सूची दुरुस्त नहीं हुई।

पंचायत चुनाव के मद्देनजर एक बार फिर से यह मतदाता सूची अंबाला के साहा क्षेत्र में चर्चा और हंगामे की वजह बनी हुई है क्योंकि इस त्रुटि पूर्ण सूची से क्षेत्र के अन्य ग्रामीण भी प्रभावित हो रहे हैं। उधर, ग्रामीणों के विरोध के बाद खंड एवं विकास पंचायत अधिकारी इस संदर्भ में एक जांच कमेटी भी बनाई है। चरणजीत कौर ढकौला गांव की रहने वाली हैं। महिला ने बताया कि सबसे पहले 2015 में यह गड़बड़ी उजागर हुई थी।

वर्ष 2019 के चुनावों में भी मतदाता सूची में सौ से अधिक वोटर कार्ड पर उसी की तस्वीर चस्पा थी। जिसे ठीक कराने के लिए वह पंचायत कार्यालय गई थी जहां उसने गुहार लगाई थी कि मतदाता सूची में शामिल अन्य वोटरों के नामों के सामने बने कॉलम से उसकी फोटो हटा दी जाए। इसके बावजूद उसकी समस्या का हल नहीं हुआ। महिला ने बताया कि मतदाता सूची में कई नाम पुरुषों के हैं लेकिन उनके कॉलम के सामने भी उसी की फोटो चस्पा है। 

यह भी पढ़ें : Karnal: करवा चौथ से पहले छिना सुहाग, हादसे में पति की मौत, पत्नी की हालत गंभीर, मेहंदी लगवा लौट रहा था दपंती

हैरानी की बात तो यह है कि गांव की जिन युवतियों की शादी हो चुकी है या जिन लोगों की मृत्यु हो चुकी है उनके नाम के सामने भी चरणजीत कौर की फोटो लगी है। इस संदर्भ में चरणजीत कौर के बेटे तेजिंद्र सिंह ने बताया कि मेरी माता की फोटो वार्ड की मतदाता सूची में अन्य मतदाताओं के नाम के सामने कॉलम में लगी हुई है।

हम कई बार पंचायत कार्यालय में गुहार लगा चुके हैं लेकिन कोई सुन ही नहीं रहा। बेटे ने बताया कि इस बात को लेकर हम बहुत परेशान हैं क्योंकि ग्रामीण इसका विरोध कर रहे हैं। हम प्रशासन से मांग करते हैं कि मतदाता सूची को दुरुस्त करे और उनकी माता की फोटो अन्य मतदाताओं की वोटर आईडी के सामने से हटवाएं और इस बात की जांच कराएं कि आखिरकार इतनी बड़ी त्रुटि कैसे हुई।

दूसरी ओर, इसी मामले में दो दिन तक ग्रामीणों के धरने के बाद बीडीपीओ ने जांच के लिए कमेटी गठित कर दी है। इसके बाद ग्रामीणों ने फिलहाल धरना स्थगित कर दिया। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि अगर दो दिन में इसका समाधान नहीं होता है तो वह दोबारा धरना देंगे। 

फर्जी वोटों का भी आरोप

पिछले दो दिन से वार्डबंदी को दुरुस्त करने की मांग को लेकर धरना दे रहे ग्रामीणों का कहना है कि उन्हें वोटर लिस्ट में फर्जी वोट भी मिली हैं। वोटर लिस्ट में आठ वार्डों की 1480 वोट दिखाई गई हैं। इनमें से 350 वोट फर्जी हैं। वार्ड- 2 की 192 में से 36 की, वार्ड-4 में 161 में 41 की और वार्ड-8 में 181 में से 18 की कई साल पहले मौत हो चुकी है। वहीं वार्ड-2 के वोटर को 7 में, वार्ड-3 के वोटर को पांच में और वार्ड-4 के वोटर को छह में शामिल किया गया है।





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img