Thursday, February 9, 2023
HomeTrending NewsPresident Draupadi Murmu And Defence Minister Rajnath Singh Will Visit Chandigarh Today...

President Draupadi Murmu And Defence Minister Rajnath Singh Will Visit Chandigarh Today On Air Force Day – वायुसेना दिवस: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज चंडीगढ़ में, सुखना पर देखेंगे एयर शो


राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।
– फोटो : फाइल

ख़बर सुनें

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शनिवार दोपहर चंडीगढ़ पहुंचेंगे। दोनों लोग वायुसेना दिवस पर सुखना लेक पर होने वाले एयर शो को देखेंगे। कार्यक्रम में पंजाब के राज्यपाल व चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारीलाल पुरोहित, पंजाब-हरियाणा के मुख्यमंत्री व अन्य अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। राष्ट्रपति रविवार को भी शहर में ही रहेंगी।

रविवार को सुबह 10 बजे वह यूटी सचिवालय की नई बिल्डिंग का उद्घाटन करेंगी और 10:45 बजे पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज (पेक) के दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचेंगी। वह पेक में ही 40 करोड़ के हॉस्टल का भी नींव पत्थर रखेंगी।

एयर शो के बाद शाम छह बजे प्रशासक बनवारीलाल पुरोहित की तरफ से पंजाब राजभवन में राष्ट्रपति के लिए सिविक रिसेप्शन रखा गया है। इसमें पड़ोसी राज्यों के राज्यपाल, मुख्यमंत्री, शहर की सांसद, मेयर, सभी पार्षद समेत विभिन्न क्षेत्रों के सम्मानित लोगों को आमंत्रित किया गया है। इस कार्यक्रम में राष्ट्रपति को सम्मानित किया जाएगा। इसके बाद वह राजभवन में ही रुकेंगी। 

राजभवन में उनके रहने की व्यवस्था से लेकर उनके खाने के मेन्यू तक को तैयार किया जा रहा है। इसके लिए अलग-अलग टीमें बनाई गईं हैं। अन्य मेहमानों के लिए भी राजभवन, यूटी गेस्ट हाउस और होटल माउंट व्यू में तैयारियां चल रही हैं। 

नए यूटी सचिवालय का उद्घाटन करेंगी राष्ट्रपति
रविवार सुबह 10 बजे सेक्टर-9 स्थित यूटी सचिवालय की नई इमारत का उद्घाटन करेंगी। इमारत में इन दिनों दिन-रात काम चल रहा है, ताकि इसे तैयार किया जा सके। उद्घाटन के बाद धीरे-धीरे प्रशासन के सभी विभाग इसमें शिफ्ट हो जाएंगे। हालांकि इमारत को पूरी तरह से तैयार होने में अभी कुछ महीने लगेंगे। 

शहर नो फ्लाइंग जोन घोषित
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की सुरक्षा को देखते हुए डीसी विनय प्रताप सिंह ने दोनों दिन के लिए शहर को नो फ्लाइंग जोन घोषित कर दिया है। आदेश के अनुसार, शनिवार को शहर में न सिर्फ ड्रोन बल्कि सभी तरह के लो फ्लाइंग ऑब्जेक्ट्स पर पाबंदी रहेगी। वीवीआईपी की सुरक्षा को देखते हुए इस तरह की चीजें खतरनाक साबित हो सकती हैं। धारा-144 के तहत यह पाबंदी लगाई गई है। हालांकि यह आदेश पुलिसकर्मियों और अन्य सरकारी एजेंसियों पर लागू नहीं होंगे।

विस्तार

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शनिवार दोपहर चंडीगढ़ पहुंचेंगे। दोनों लोग वायुसेना दिवस पर सुखना लेक पर होने वाले एयर शो को देखेंगे। कार्यक्रम में पंजाब के राज्यपाल व चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारीलाल पुरोहित, पंजाब-हरियाणा के मुख्यमंत्री व अन्य अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। राष्ट्रपति रविवार को भी शहर में ही रहेंगी।

रविवार को सुबह 10 बजे वह यूटी सचिवालय की नई बिल्डिंग का उद्घाटन करेंगी और 10:45 बजे पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज (पेक) के दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचेंगी। वह पेक में ही 40 करोड़ के हॉस्टल का भी नींव पत्थर रखेंगी।

एयर शो के बाद शाम छह बजे प्रशासक बनवारीलाल पुरोहित की तरफ से पंजाब राजभवन में राष्ट्रपति के लिए सिविक रिसेप्शन रखा गया है। इसमें पड़ोसी राज्यों के राज्यपाल, मुख्यमंत्री, शहर की सांसद, मेयर, सभी पार्षद समेत विभिन्न क्षेत्रों के सम्मानित लोगों को आमंत्रित किया गया है। इस कार्यक्रम में राष्ट्रपति को सम्मानित किया जाएगा। इसके बाद वह राजभवन में ही रुकेंगी। 

राजभवन में उनके रहने की व्यवस्था से लेकर उनके खाने के मेन्यू तक को तैयार किया जा रहा है। इसके लिए अलग-अलग टीमें बनाई गईं हैं। अन्य मेहमानों के लिए भी राजभवन, यूटी गेस्ट हाउस और होटल माउंट व्यू में तैयारियां चल रही हैं। 

नए यूटी सचिवालय का उद्घाटन करेंगी राष्ट्रपति

रविवार सुबह 10 बजे सेक्टर-9 स्थित यूटी सचिवालय की नई इमारत का उद्घाटन करेंगी। इमारत में इन दिनों दिन-रात काम चल रहा है, ताकि इसे तैयार किया जा सके। उद्घाटन के बाद धीरे-धीरे प्रशासन के सभी विभाग इसमें शिफ्ट हो जाएंगे। हालांकि इमारत को पूरी तरह से तैयार होने में अभी कुछ महीने लगेंगे। 

शहर नो फ्लाइंग जोन घोषित

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की सुरक्षा को देखते हुए डीसी विनय प्रताप सिंह ने दोनों दिन के लिए शहर को नो फ्लाइंग जोन घोषित कर दिया है। आदेश के अनुसार, शनिवार को शहर में न सिर्फ ड्रोन बल्कि सभी तरह के लो फ्लाइंग ऑब्जेक्ट्स पर पाबंदी रहेगी। वीवीआईपी की सुरक्षा को देखते हुए इस तरह की चीजें खतरनाक साबित हो सकती हैं। धारा-144 के तहत यह पाबंदी लगाई गई है। हालांकि यह आदेश पुलिसकर्मियों और अन्य सरकारी एजेंसियों पर लागू नहीं होंगे।





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img