Tuesday, October 4, 2022
spot_img
Homedesh videshआत्मनिर्भर भारत को लेकर रघुराम राजन ने उठाए सवाल।

आत्मनिर्भर भारत को लेकर रघुराम राजन ने उठाए सवाल।

शिकागो विश्वविद्यालय( University of Chicago) के professor एवं रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रह चुके रघुराम राजन ने कहा कि उन्हें आत्म निर्भर भारत अभियान समझ में नहीं आ रहा है। भारत को world level की manufacturing facility कि जरूरत है और मतलब साफ है कि country में जितने भी Manufacturer हैै उनके लिए cheap import तक पहुंच होंनी चाहिए । क्योंकि जबतक आयात व्यवस्था विश्व स्तरीय नहीं होगी और देश के विनिर्माताओं को सस्ते आयात (import) नहीं मिल सकेंगे तबतक मजबूत निर्यात(export) संभव नहीं है। यह बात उन्होंने  आर्थिक शोध संस्थान (ICRIER) के वेबिनार में कही।

राजन ने कहा कि उन्हें अब तक यह साफ नहीं है कि आखिर सरकार का ‘आत्मनिर्भर भारत’ से मतलब क्या है? अगर यह उत्पादन (production) के लिए एक परिवेश बनाने को लेकर है, तब यह ‘मेक इन इंडिया’ पहल की रीब्रैंडिंग जैसा ही है।

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक रघुराम राजन ने कहा, ‘पहले भी हमारे पास लाइसेंस परमिट राज व्यवस्था थी। संरक्षणवाद का वह तरीका समस्या पैदा करने वाला था। उसने कुछ कंपनियों को समृद्ध किया जबकि वह हममें से कइयों के लिए गरीबी का कारण बना।’
मेरी समझ से यह रास्ता अपनाने का कोई मतलब नहीं है क्योंकि हमने पहले इसको लेकर कोशिश कर ली है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments