Saturday, February 4, 2023
HomeTrending NewsSaturday Record Coldest Day In Delhi In Last 12 Years Yellow Alert...

Saturday Record Coldest Day In Delhi In Last 12 Years Yellow Alert Issued For Sunday – Delhi Weather: बीते 12 साल में सबसे ठंडा रहा शनिवार, कल के लिए यलो अलर्ट, जानें क्यों इतना बरस रहे हैं बदरा


राजधानी में शनिवार को दिनभर हुई बारिश से दिन का पारा सामान्य से 10 डिग्री सेल्सियस नीचे लुढ़क कर 23.4 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। यह बीते 12 सालों में सबसे कम दर्ज हुआ है। मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, 2011 से लेकर अभी तक इस दिन कभी इतना पारा नहीं लुढ़का है। साल 2011 में अधिकतम पारा 35 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। उधर, शुक्रवार सुबह से लेकर शनिवार शाम तक दिल्ली में 55.4 मिमी बारिश हुई है। मौसम विभाग ने रविवार के लिए यलो अलर्ट जारी करते हुए कई जगहों पर मध्यम स्तर तक की बारिश की संभावना जताई है।

मौसम विभाग ने शनिवार के लिए यलो अलर्ट जारी किया था। इस कड़ी में तड़के से ही हल्की बूंदाबांदी दर्ज की गई। वहीं, सुबह से लेकर शाम तक बादलों ने आसमान में डेरा डाले रखा और रिमझिम फुहारों के बीच-बीच में तेज बारिश का दौर आता-जाता रहा। शुक्रवार सुबह से लेकर शनिवार सुबह तक 25.3 मिमी बारिश दर्ज हुई है। वहीं, शनिवार को शाम साढ़े पांच बजे तक 30.1 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। सबसे अधिक बारिश 36.8 मिमी लोधी रोड व 25.8 मिमी आयानगर में दर्ज हुई है। वहीं, एनसीआर में गुरुग्राम में 42 और गाजियाबाद में 28.5 मिमी बारिश हुई है। राजधानी में लगातार बारिश के बीच न्यूनतम तापमान सामान्य के बराबर 20.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। हवा की रफ्तार मध्यम रहने के साथ नमी का स्तर 93 से 100 फीसदी तक रहा। 

रविवार के लिए यलो अलर्ट जारी

मौसम विभाग ने रविवार के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। विभाग के मुताबिक, कई जगहों पर हल्की से लेकर मध्यम स्तर की बारिश का दौर जारी रहेगा। अधिकतम तापमान 24 व न्यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया जा सकता है। इसके अगले दिन भी कमोबेश यही  स्थिति रहेगी। हालांकि, 10 अक्तूबर से बारिश कम होना शुरू होगी। सोमवार से आंशिक रूप से बादल छाए रहने के साथ एक या दो स्थान पर हल्की बारिश के आसार हैं। 

इसलिए हो रही है बारिश 

मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक, राजेंद्र जेनामणि के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता की वजह से ट्रफ हवा की मध्य व ऊपरी क्षेत्र में बनी हुई है। वहीं, नमी भरी हवा अरब सागर से होकर गुजरात, पूर्वी राजस्थान और उत्तराखंड होते हुए दिल्ली पहुंच रही हैं। इस वजह से मानसून गुजरने के बाद भी बारिश रिकॉर्ड हो रही है। एक अन्य मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक, इसका असर हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश के रूप में देखने को मिल रहा है। बारिश का यह दौर अगले 24 घंटे में भी जारी रहेगा। बता दें कि इस बार मानसून अपने तय समय से देरी से लौटा है। सामान्य तौर पर मानसून की दिल्ली से वापसी 25 सितंबर तक होती है, लेकिन इस बार यह 30 सितंबर तक लौटा है। 

दिल्ली के विभिन्न मानक केंद्रों पर दर्ज बारिश 

पालम- 23.2

लोधी रोड- 36.8

रिज- 17.3

आयानगर- 25.8

जफरपुर- 3.5

मुंगेशपुर- 0.5

नजफगढ़- 13.5

स्पोर्ट्स कांप्लेक्स- 19

मयूर विहार- 27

 





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img