Thursday, February 2, 2023
HomeTrending NewsSix Children Died Due To Drowning In Rainy Pond In Gurugram -...

Six Children Died Due To Drowning In Rainy Pond In Gurugram – Gurugram: तलाब में नहाने गए छह बच्चे डूबे, सभी की उम्र आठ से 13 साल के बीच, कपड़े-चप्पल देख शुरू हुई थी तलाश


सेक्टर 111 के तालाब में नहाने गए छह बच्चों की रविवार शाम को डूबने से मौत हो गई। सातवां बच्चा जिंदा निकाल लिया गया है। सभी बच्चे पास की ही शंकर विहार कॉलोनी के रहने वाले हैं। वरुण, राहुल, देवा, अजीत, दुर्गेश और पीयूष का शव मिल चुका है। सभी बच्चे 08 से 13 वर्ष की आयु के थे। इनके परिजन निजी कपंनियों में काम करते हैं, जो यूपी, राजस्थान, बिहार और झारखंड के मूलनिवासी हैं। बच्चों की मौत से इनके घरों में कोहराम मच गया है।

सभी बच्चे दोपहर लगभग सवा तीन बजे अपने घरों से बाहर खेलने निकले थे, इसी दौरान वो तालाब में नहाने चले गए। जहां पानी की गहराई का अंदाजा नहीं होने से ये घटना हुई। बच्चों के शव परिवार में पहुंचते ही विलाप शुरू हो गया। पूरी कॉलोनी में एक साथ छह बच्चों की मौत पर मातम पसर गया है। कई घरों में शाम को चूल्हा भी नहीं जला। बच्चों की मां रो रो कर बेसुध हो गई हैं।  

घटना की जानकारी मिलते ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मृतक बच्चों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की राहत देने का एलान किया है। मौके पर पहुंचे जिला उपायुक्त निशांत यादव ने कहा कि आसपास के इलाकों में पुलिस घूम-घूम कर बाकी लोगों से उनके बच्चों की जानकारी कर रही है, कि कहीं और कोई बच्चा गायब तो नहीं है। स्थानीय जिला एवं पुलिस प्रशासन तालाब की जमीन की जानकारी जुटा रहा है। जिससे पता चल सके कि यहां इतनी बड़ी मात्रा में पानी कैसे जमा हुआ। इसके आसपास कोई बैरीकेडिंग क्यों नहीं कराई गई। 

मृतकों में शामिल शंकर विहार कॉलोनी निवासी 11 वर्षीय देवा के चाचा सरजीत ने बताया कि उनका भतीजा देवा छह साथियों के साथ दोपहर लगभग सवा तीन बजे घर से बाहर खेलने गया था। सभी बच्चे पास में ही बरसात के पानी से बने तालाब में खेलने चले गए। जहां पानी की गहराई का कोई अंदाजा नहीं होने से संभवत: वो सभी मिट्टी में फंस गए। जिससे ये हादसा हुआ है। 

पुलिस कंट्रोल रूम में रविवार शाम पांच बजे के लगभग किसी ने फोन कर बताया कि बरसाती तालाब में नहाने गए बच्चे डूब गए हैं। खबर मिलते ही बजघेड़ा थाना पुलिस मौके पर पहुंची। बच्चों की तलाश शुरू हुई तो गोताखोरों ने राहत और बचाव शुरू किया। कुछ देर की तलाश के बाद सबसे पहले 11 साल के देवा का शव बाहर निकाला गया। इसके बाद बाकी पांच बच्चों के शव पानी से निकाले गए। इन बच्चों के कपड़े व चप्पलें तालाब के किनारे मिले थे।





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img