Thursday, February 2, 2023
HomeTrending NewsTelangana: Parents Hire Contract Killers To Get Alcoholic And Unemployed Son Murdered...

Telangana: Parents Hire Contract Killers To Get Alcoholic And Unemployed Son Murdered In Khammam – Telangana: खम्मम जिले में एक माता-पिता ने शराबी और बेरोजगार बेटे की हत्या के लिए कॉन्ट्रैक्ट किलर को किया हायर


सांकेतिक तस्वीर।

सांकेतिक तस्वीर।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

तेलंगाना के खम्मम जिले से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है, जहां एक माता-पिता ने अपने इकलौते बेटे को मारने के लिए कथित तौर पर हत्यारों को सुपारी दी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी दंपती एक सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल और उनकी पत्नी है। वे अपने शराबी और बेरोजगार बेटे के नियमित उत्पीड़न से तंग आ गए थे, इसलिए उन्होंने कथित तौर पर एक कॉन्ट्रैक्ट किलर को किया हायर और आठ लाख रुपये में अपने बेटे की हत्या की सुपारी दे डाली।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, आरोपी दंपती की पहचान क्षत्रिय राम सिंह और रानी बाई के रूप में हुई है। पुलिस का कहना है कि उन्होंने कभी गुमशुदगी की शिकायत दर्ज नहीं कराई। 26 वर्षीय साई राम की हत्या के आरोप में सोमवार को चार आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वहीं, कथित हत्यारों में से एक फरार है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, साई का शव 19 अक्तूबर को मिला था, जिसके एक दिन बाद उसे सूर्यापेट इलाके में फेंक दिया गया था। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जांच की, जिससे उन्हें आरोपी दंपती तक पहुंचने में मदद मिली। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में अपराध में इस्तेमाल की गई पारिवारिक कार दिखाई दी। उनके परिवार के सदस्यों ने कहा कि साई शराब के लिए पैसे देने से इनकार करने पर अपने माता-पिता के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट करता था। उसे हैदराबाद के एक पुनर्वास केंद्र में भेजा गया था, लेकिन इससे कोई फायदा नहीं हुआ।

पुलिस ने बताया कि आरोपी दंपती ने रानी बाई के भाई सत्यनारायण से अपने बेटे को मारने के लिए मदद मांगी थी और सत्यनारायण के साथ आर रवि, डी धर्मा, पी नागराजू, डी साई और बी रामबाबू इस हत्या में शामिल थे। पहले से तय की गई व्यवस्था के अनुसार दंपत्ति ने डेढ़ लाख रुपये एडवांस में दिए थे और कहा था कि बाकी के साढ़े छह लाख रुपये हत्या के तीन दिन बाद देंगे।

विस्तार

तेलंगाना के खम्मम जिले से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है, जहां एक माता-पिता ने अपने इकलौते बेटे को मारने के लिए कथित तौर पर हत्यारों को सुपारी दी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी दंपती एक सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल और उनकी पत्नी है। वे अपने शराबी और बेरोजगार बेटे के नियमित उत्पीड़न से तंग आ गए थे, इसलिए उन्होंने कथित तौर पर एक कॉन्ट्रैक्ट किलर को किया हायर और आठ लाख रुपये में अपने बेटे की हत्या की सुपारी दे डाली।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, आरोपी दंपती की पहचान क्षत्रिय राम सिंह और रानी बाई के रूप में हुई है। पुलिस का कहना है कि उन्होंने कभी गुमशुदगी की शिकायत दर्ज नहीं कराई। 26 वर्षीय साई राम की हत्या के आरोप में सोमवार को चार आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वहीं, कथित हत्यारों में से एक फरार है।


रिपोर्ट्स के मुताबिक, साई का शव 19 अक्तूबर को मिला था, जिसके एक दिन बाद उसे सूर्यापेट इलाके में फेंक दिया गया था। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जांच की, जिससे उन्हें आरोपी दंपती तक पहुंचने में मदद मिली। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में अपराध में इस्तेमाल की गई पारिवारिक कार दिखाई दी। उनके परिवार के सदस्यों ने कहा कि साई शराब के लिए पैसे देने से इनकार करने पर अपने माता-पिता के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट करता था। उसे हैदराबाद के एक पुनर्वास केंद्र में भेजा गया था, लेकिन इससे कोई फायदा नहीं हुआ।

पुलिस ने बताया कि आरोपी दंपती ने रानी बाई के भाई सत्यनारायण से अपने बेटे को मारने के लिए मदद मांगी थी और सत्यनारायण के साथ आर रवि, डी धर्मा, पी नागराजू, डी साई और बी रामबाबू इस हत्या में शामिल थे। पहले से तय की गई व्यवस्था के अनुसार दंपत्ति ने डेढ़ लाख रुपये एडवांस में दिए थे और कहा था कि बाकी के साढ़े छह लाख रुपये हत्या के तीन दिन बाद देंगे।





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img