Saturday, January 28, 2023
HomeTrending NewsTurkish President Indicates He Will Go Beyond Air Strikes, Launch Ground Operation...

Turkish President Indicates He Will Go Beyond Air Strikes, Launch Ground Operation In North Iraq, Syria – Turkey : इराक और सीरिया पर जमीनी हमला कर सकता है तुर्किये, राष्ट्रपति एर्दोगन ने दिए संकेत


तुर्किये के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन

तुर्किये के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन
– फोटो : instagram.com/rterdogan

ख़बर सुनें

तुर्किये के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने सोमवार को संकेत दिया कि वह हवाई हमलों से परे और भी कार्रवाई कर सकते हैं। समाचार एजेंसी अनादोलू के अनुसार, राष्ट्रपति एर्दोगन उत्तरी इराक और उत्तरी सीरिया में आतंकवादियों को खत्म करने के लिए एक जमीनी सैन्य अभियान शुरू कर सकते हैं।

कतर से तुर्किये लौटने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए एर्दोगन ने कहा कि यह सिर्फ एक हवाई अभियान तक सीमित नहीं है। जैसा कि हमने पहले कहा है, अगर कोई हमारे देश और भूमि की शांति भंग करता है, तो उसे कीमत चुकानी होगी। ऐसा इसलिए क्योंकि हमारे दक्षिणी इलाके में आतंकवादी संगठन हैं, जो कई हमलों की योजना बना रहे हैं या जो इस तरह के हमलों को अंजाम देते हैं और खतरा पैदा करते हैं।

अनादोलू एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, तुर्किये के राष्ट्रपति की यह टिप्पणी इराक और सीरियाई सीमाओं पर अवैध ठिकाना बनाने वाले कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी (पीकेके)/वाईपीपी के खिलाफ ऑपरेशन क्लॉ-स्वॉर्ड, एक क्रॉस-बॉर्डर हवाई अभियान शुरू करने के बाद आई है। तुर्किये का हवाई अभियान पिछले रविवार को हुए उस आतंकवादी हमले के बाद चलाया गया था, जिसने इस्तांबुल के भीड़ भरे इस्तिकलाल एवेन्यू को हिलाकर रख दिया था और जिसमें कम से कम छह लोगों की मौत हो गई और 81 घायल हो गए थे।

इस्तिकलाल में बम विस्फोट आतंकवादी हमला था : बोजदाग
हमले के बाद तुर्किये पुलिस ने इस्तांबुल की इस्तिकलाल सड़क पर बम लगाने वाले संदिग्ध को गिरफ्तार कर लिया था। सीएनएन ने रविवार को तुर्किये के उपराष्ट्रपति फुअत ओकटायस के हवाले से कहा कि हम इसे एक आतंकवादी हमला मानते हैं, एक महिला हमलावर ने यह बम विस्फोट किया। तुर्किये के न्याय मंत्री बेकिर बोजदाग ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज में एक महिला को 40 मिनट से अधिक समय तक बेंच पर बैठे और फिर विस्फोट से एक या दो मिनट पहले उठते हुए, एक बैग या प्लास्टिक की थैली को पीछे छोड़ते हुए देखा गया है। उन्होंने आगे बताया कि हमले में शामिल होने के संदेह पर एक महिला को हिरासत में लिया गया था।

सीएनएन के अनुसार, बोजदाग ने निजी स्वामित्व वाले ए हैबर समाचार चैनल को दिए एक साक्षात्कार में टिप्पणी करते हुए कहा कि तुर्किये सुरक्षा बलों का मानना है कि महिला संदिग्ध है, और अधिकारी उसकी जांच कर रहे हैं। समाचार एजेंसी अनादोलु की रिपोर्ट के अनुसार, तुर्किये के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र चार्टर के अनुच्छेद 51 के तहत आत्मरक्षा के अधिकार के अनुरूप ऑपरेशन किया गया था।

हवाई हमले में शामिल थे 70 विमान
एर्दोगन ने कहा है कि सशस्त्र ड्रोन सहित लगभग 70 विमानों ने ऑपरेशन में भाग लिया और कहा कि आश्रयों, बंकरों, गुफाओं, सुरंगों और गोला-बारूद डिपो सहित कुल 89 आतंकी ठिकानों को नष्ट कर दिया गया। यहां उत्तरी इराक में लगभग 140 किमी (87 मील) अंदर घुसकर 45 आतंकवादी ठिकानों और सीरिया में लगभग 20 किमी (12 मील) अंदर जाकर 44 ठिकानों को निशाना बनाया गया।

एर्दोगन इस संबंध सवाल किया गया कि क्या तुर्किये ने रूस और अमेरिका के साथ इस ऑपरेशन के बारे में पहले से जानकारी साझा की थी? इसके जवाब में एर्दोगन ने देश की सीमा से लगे उत्तर-पूर्वी सीरिया से आतंकवादियों को हटाने के लिए अंकारा और मास्को के बीच हुए सोची समझौते को याद दिलाया।

समाचार एजेंसी अनादोलू के मुताबिक उन्होंने कहा कि आतंकवादियों को इलाके से खदेड़ने की जिम्मेदारी उनकी थी। दुर्भाग्य से हमने उन्हें बार-बार याद दिलाया, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया… हमने कहा कि हम इसके खिलाफ चुप नहीं रहेंगे और वहां आतंकवादियों के खिलाफ अगर वे ऐसा नहीं कर सके तो हम कदम उठाएंगे। 

विस्तार

तुर्किये के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने सोमवार को संकेत दिया कि वह हवाई हमलों से परे और भी कार्रवाई कर सकते हैं। समाचार एजेंसी अनादोलू के अनुसार, राष्ट्रपति एर्दोगन उत्तरी इराक और उत्तरी सीरिया में आतंकवादियों को खत्म करने के लिए एक जमीनी सैन्य अभियान शुरू कर सकते हैं।

कतर से तुर्किये लौटने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए एर्दोगन ने कहा कि यह सिर्फ एक हवाई अभियान तक सीमित नहीं है। जैसा कि हमने पहले कहा है, अगर कोई हमारे देश और भूमि की शांति भंग करता है, तो उसे कीमत चुकानी होगी। ऐसा इसलिए क्योंकि हमारे दक्षिणी इलाके में आतंकवादी संगठन हैं, जो कई हमलों की योजना बना रहे हैं या जो इस तरह के हमलों को अंजाम देते हैं और खतरा पैदा करते हैं।

अनादोलू एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, तुर्किये के राष्ट्रपति की यह टिप्पणी इराक और सीरियाई सीमाओं पर अवैध ठिकाना बनाने वाले कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी (पीकेके)/वाईपीपी के खिलाफ ऑपरेशन क्लॉ-स्वॉर्ड, एक क्रॉस-बॉर्डर हवाई अभियान शुरू करने के बाद आई है। तुर्किये का हवाई अभियान पिछले रविवार को हुए उस आतंकवादी हमले के बाद चलाया गया था, जिसने इस्तांबुल के भीड़ भरे इस्तिकलाल एवेन्यू को हिलाकर रख दिया था और जिसमें कम से कम छह लोगों की मौत हो गई और 81 घायल हो गए थे।

इस्तिकलाल में बम विस्फोट आतंकवादी हमला था : बोजदाग

हमले के बाद तुर्किये पुलिस ने इस्तांबुल की इस्तिकलाल सड़क पर बम लगाने वाले संदिग्ध को गिरफ्तार कर लिया था। सीएनएन ने रविवार को तुर्किये के उपराष्ट्रपति फुअत ओकटायस के हवाले से कहा कि हम इसे एक आतंकवादी हमला मानते हैं, एक महिला हमलावर ने यह बम विस्फोट किया। तुर्किये के न्याय मंत्री बेकिर बोजदाग ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज में एक महिला को 40 मिनट से अधिक समय तक बेंच पर बैठे और फिर विस्फोट से एक या दो मिनट पहले उठते हुए, एक बैग या प्लास्टिक की थैली को पीछे छोड़ते हुए देखा गया है। उन्होंने आगे बताया कि हमले में शामिल होने के संदेह पर एक महिला को हिरासत में लिया गया था।

सीएनएन के अनुसार, बोजदाग ने निजी स्वामित्व वाले ए हैबर समाचार चैनल को दिए एक साक्षात्कार में टिप्पणी करते हुए कहा कि तुर्किये सुरक्षा बलों का मानना है कि महिला संदिग्ध है, और अधिकारी उसकी जांच कर रहे हैं। समाचार एजेंसी अनादोलु की रिपोर्ट के अनुसार, तुर्किये के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र चार्टर के अनुच्छेद 51 के तहत आत्मरक्षा के अधिकार के अनुरूप ऑपरेशन किया गया था।

हवाई हमले में शामिल थे 70 विमान

एर्दोगन ने कहा है कि सशस्त्र ड्रोन सहित लगभग 70 विमानों ने ऑपरेशन में भाग लिया और कहा कि आश्रयों, बंकरों, गुफाओं, सुरंगों और गोला-बारूद डिपो सहित कुल 89 आतंकी ठिकानों को नष्ट कर दिया गया। यहां उत्तरी इराक में लगभग 140 किमी (87 मील) अंदर घुसकर 45 आतंकवादी ठिकानों और सीरिया में लगभग 20 किमी (12 मील) अंदर जाकर 44 ठिकानों को निशाना बनाया गया।

एर्दोगन इस संबंध सवाल किया गया कि क्या तुर्किये ने रूस और अमेरिका के साथ इस ऑपरेशन के बारे में पहले से जानकारी साझा की थी? इसके जवाब में एर्दोगन ने देश की सीमा से लगे उत्तर-पूर्वी सीरिया से आतंकवादियों को हटाने के लिए अंकारा और मास्को के बीच हुए सोची समझौते को याद दिलाया।

समाचार एजेंसी अनादोलू के मुताबिक उन्होंने कहा कि आतंकवादियों को इलाके से खदेड़ने की जिम्मेदारी उनकी थी। दुर्भाग्य से हमने उन्हें बार-बार याद दिलाया, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया… हमने कहा कि हम इसके खिलाफ चुप नहीं रहेंगे और वहां आतंकवादियों के खिलाफ अगर वे ऐसा नहीं कर सके तो हम कदम उठाएंगे। 





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img