Wednesday, February 8, 2023
HomeTrending NewsTwo Hundred People Trapped In Mughal Road Were Rescued, Rain Expected In...

Two Hundred People Trapped In Mughal Road Were Rescued, Rain Expected In Some Parts Of Jammu Kashmir Today – Weather Updates: मुगल रोड में फंसे दो सौ लोगों को निकाला, जम्मू कश्मीर में आज कुछ हिस्सों में बारिश के आसार


मुगल रोड़ पर फंसे लोगों को निकालते सुरक्षाबल

मुगल रोड़ पर फंसे लोगों को निकालते सुरक्षाबल
– फोटो : संवाद

ख़बर सुनें

पुंछ से शोपियां (कश्मीर) को जोड़ने वाले मुगल रोड में बर्फबारी में फंसे 80 वाहनों में दो सौ लोगों को बुधवार को सुरक्षित निकाल लिया गया। इस बीच विश्व विख्यात पर्यटन स्थल गुलमर्ग में बर्फबारी का आनंद लेने पर्यटक पहुंचे। कश्मीर के कई पर्वतीय इलाकों में बारिश हुई है।

प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में मौसम साफ रहा, लेकिन रात के तापमान में गिरावट आई है। मौसम विज्ञान केंद्र श्रीनगर के अनुसार वीरवार को कश्मीर के कुछ हिस्सों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है। इसका असर जम्मू संभाग के जिलों में भी दिखेगा। 
घाटी के कुपवाड़ा, हंदवाड़ा, बांदीपोरा सहित अन्य कई इलाकों में बारिश हुई। राजधानी श्रीनगर में बीती रात का न्यूनतम तापमान 5.0 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। इसी तरह पहलगाम में न्यूनतम तापमान 0.6, गुलमर्ग में माइनस 0.4 और लेह में माइनस 1.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

जम्मू में दिन में तपिश का अहसास हुआ, लेकिन रात के पारे में गिरावट आई है। यहां दिनभर मौसम साफ रहने से अधिकतम तापमान 30.8 और बीती रात का न्यूनतम तापमान 16.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

बनिहाल में दिन का तापमान 22.8, बटोत में 20.7, कटड़ा में 27.0 और भद्रवाह में 18.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भद्रवाह में 10.1 मिलीमीटर बारिश हुई।

मुगलरोड पर बर्फबारी में फंसे 200 यात्री सुरक्षित निकाले

बर्फबारी से पुंछ के मुगलरोड पर फंसे 80 वाहनों में सवार 200 लोगाें को पुलिस और सेना ने सुरक्षित निकाल कर सुरनकोट पहुंचाया। मंगलवार देर रात से बुधवार सुबह तक लोगाें को सुरक्षित निकालने के प्रयास जारी रहे। मुगलरोड पर मंगलवार को बारिश के साथ ही बर्फबारी से बड़ी संख्या में यात्री और माल वाहक वाहन फंसे रहे।

बर्फबारी के कारण बढ़ी फिसलन के चलते इस रोड पर यातायात को तत्काल रोक दिया गया। देर रात बर्फबारी थमने के बाद पुलिस, यातायात पुलिस और सेना के जवानों ने मौके पर पहुंच कर हालात का जायजा लिया और बुधवार सुबह तक वाहनों को निकालने में लगे रहे। इस बीच यात्री और माल वाहक वाहनों में फंसे यात्रियों की सांसें पूरी रात अटकी रहीं।

मंगलवार देर शाम को जिले के निचले क्षेत्रों में बारिश और पहाड़ों पर बर्फबारी होने लगी थी। इसके चलते सुरनकोट तहसील के बैहराम गल्ला से मुगलरोड पर कश्मीर की तरफ जाने वाले वाहनों को रोक दिया गया, लेकिन इस बीच देर रात सुरनकोट पुलिस को सूचना मिली कि कश्मीर की तरफ से पुुंछ जिले की तरफ आ रहे कई यात्री वाहन और सेब एवं सब्जियों से लदे ट्रक फंसे हुए हैं।

मुगलरोड पर होने वाली 4 से 6 इंच बर्फबारी के कारण फिसलन होने से वाहन आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं। इस सूचना के उपरांत एसएचओ राजबीर सिंह, पुलिस, यातायात पुलिस दल और मुगलरोड अथारिटी की जेसीबी एवं स्नोप्लो मशीनों को साथ लेकर मुगलरोड पर पोशाना क्षेत्र तक पहुंचे।

वहां से सेना की 16 आरआर के जवानों को साथ लेकर बर्फबारी के चलते फंसे वाहनों तक पहुंचे। जहां राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया गया। जो बुधवार सुबह तक जारी रहा। इस दौरान मुगलरोड से बर्फ हटाने के साथ वहां फंसे वाहनों एवं यात्रियों को सुरक्षित निकाल कर लाया।

उधर आज दिन भर भी बर्फबारी के कारण होने वाली फिसलन के चलते मुगलरोड को सभी प्रकार के वाहनों की आवाजाही के लिए बंद रखा गया।  

विस्तार

पुंछ से शोपियां (कश्मीर) को जोड़ने वाले मुगल रोड में बर्फबारी में फंसे 80 वाहनों में दो सौ लोगों को बुधवार को सुरक्षित निकाल लिया गया। इस बीच विश्व विख्यात पर्यटन स्थल गुलमर्ग में बर्फबारी का आनंद लेने पर्यटक पहुंचे। कश्मीर के कई पर्वतीय इलाकों में बारिश हुई है।

प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में मौसम साफ रहा, लेकिन रात के तापमान में गिरावट आई है। मौसम विज्ञान केंद्र श्रीनगर के अनुसार वीरवार को कश्मीर के कुछ हिस्सों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है। इसका असर जम्मू संभाग के जिलों में भी दिखेगा। 

घाटी के कुपवाड़ा, हंदवाड़ा, बांदीपोरा सहित अन्य कई इलाकों में बारिश हुई। राजधानी श्रीनगर में बीती रात का न्यूनतम तापमान 5.0 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। इसी तरह पहलगाम में न्यूनतम तापमान 0.6, गुलमर्ग में माइनस 0.4 और लेह में माइनस 1.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

जम्मू में दिन में तपिश का अहसास हुआ, लेकिन रात के पारे में गिरावट आई है। यहां दिनभर मौसम साफ रहने से अधिकतम तापमान 30.8 और बीती रात का न्यूनतम तापमान 16.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

बनिहाल में दिन का तापमान 22.8, बटोत में 20.7, कटड़ा में 27.0 और भद्रवाह में 18.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भद्रवाह में 10.1 मिलीमीटर बारिश हुई।

मुगलरोड पर बर्फबारी में फंसे 200 यात्री सुरक्षित निकाले

बर्फबारी से पुंछ के मुगलरोड पर फंसे 80 वाहनों में सवार 200 लोगाें को पुलिस और सेना ने सुरक्षित निकाल कर सुरनकोट पहुंचाया। मंगलवार देर रात से बुधवार सुबह तक लोगाें को सुरक्षित निकालने के प्रयास जारी रहे। मुगलरोड पर मंगलवार को बारिश के साथ ही बर्फबारी से बड़ी संख्या में यात्री और माल वाहक वाहन फंसे रहे।

बर्फबारी के कारण बढ़ी फिसलन के चलते इस रोड पर यातायात को तत्काल रोक दिया गया। देर रात बर्फबारी थमने के बाद पुलिस, यातायात पुलिस और सेना के जवानों ने मौके पर पहुंच कर हालात का जायजा लिया और बुधवार सुबह तक वाहनों को निकालने में लगे रहे। इस बीच यात्री और माल वाहक वाहनों में फंसे यात्रियों की सांसें पूरी रात अटकी रहीं।

मंगलवार देर शाम को जिले के निचले क्षेत्रों में बारिश और पहाड़ों पर बर्फबारी होने लगी थी। इसके चलते सुरनकोट तहसील के बैहराम गल्ला से मुगलरोड पर कश्मीर की तरफ जाने वाले वाहनों को रोक दिया गया, लेकिन इस बीच देर रात सुरनकोट पुलिस को सूचना मिली कि कश्मीर की तरफ से पुुंछ जिले की तरफ आ रहे कई यात्री वाहन और सेब एवं सब्जियों से लदे ट्रक फंसे हुए हैं।

मुगलरोड पर होने वाली 4 से 6 इंच बर्फबारी के कारण फिसलन होने से वाहन आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं। इस सूचना के उपरांत एसएचओ राजबीर सिंह, पुलिस, यातायात पुलिस दल और मुगलरोड अथारिटी की जेसीबी एवं स्नोप्लो मशीनों को साथ लेकर मुगलरोड पर पोशाना क्षेत्र तक पहुंचे।

वहां से सेना की 16 आरआर के जवानों को साथ लेकर बर्फबारी के चलते फंसे वाहनों तक पहुंचे। जहां राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया गया। जो बुधवार सुबह तक जारी रहा। इस दौरान मुगलरोड से बर्फ हटाने के साथ वहां फंसे वाहनों एवं यात्रियों को सुरक्षित निकाल कर लाया।

उधर आज दिन भर भी बर्फबारी के कारण होने वाली फिसलन के चलते मुगलरोड को सभी प्रकार के वाहनों की आवाजाही के लिए बंद रखा गया।  





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img