Wednesday, February 8, 2023
HomeTrending NewsUp Pet 2022: Before And After The Exam, The Candidates Gave A...

Up Pet 2022: Before And After The Exam, The Candidates Gave A Test Of Chaos, See Photos – Up Pet 2022: परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों ने दी अव्यवस्थाओं की ‘अग्निपरीक्षा’, बस-ट्रेन में खाने पड़े धक्के


पीईटी परीक्षा के दूसरे दिन का आलम यह रहा कि चारबाग रेलवे स्टेशन पर जबरदस्त भीड़ उमड़ी। स्पेशल ट्रेन छूट गई तो उसे पकड़ने के लिए ट्रैक पर दौड़ते परीक्षार्थी दिखे जिन्हें जीआरपी ने रोका। यार्ड में खड़ी गंगा गोमती पर परीक्षार्थी चढ़ गए तो शाम की ट्रेन में जगह न मिलने पर इंजन पर चढ़ गए। जनरल बोगियों में पैर रखने की जगह नहीं थी तो एसी बोगियों में भी परीक्षार्थी डटे थे, जिन्हें आरपीएफ जवानों ने बाहर निकाला। पीईटी परीक्षा के दूसरे दिन भी बसों में परीक्षार्थियों की भीड़ रही। आलमबाग, कमता व चारबाग बस अड्डे पर भी परीक्षार्थियों का हुजूम उमड़ा। यात्रियों को खिड़कियों से घुसना पड़ा। एमडी संजय कुमार ने बताया कि पीईटी परीक्षा के लिए 8089 बसों का संचालन किया गया। बस स्टेशनों पर पेयजल, प्रसाधन, कैंटीन आदि की व्यवस्था भी रही। वहीं ऑटो वालों ने मनमाना किराया वसूला। 

स्टेशन पर प्लेटफॉर्मों से लेकर ट्रेन के अंदर तक भीड़ रही। परीक्षार्थियों को सकुशल रवाना करने के उद्देश्य से उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल डीआरएम एसकेसपरा, सीनियर डीसीएम रेखा शर्मा व स्टेशन डायरेक्टर आशीष सिंह खुद मौके पर मौजूद रहे। उन्होंने मोर्चा संभाला। डीआरएम ने परीक्षार्थियों से बात करके उनकी परेशानियों को भी सुना।

दरअसल, पीईटी परीक्षा के दूसरे दिन भी बम्पर भीड़ स्टेशनों पर रही। रेलवे प्रशासन की ओर से स्पेशल ट्रेनों का इंतजाम किया गया था, जो नाकाफी साबित हुआ। रविवार को चारबाग रेलवे स्टेशन से लखनऊ बनारस इंटरसिटी के इंजन पर परीक्षार्थाी सवार हो गए। दूसरी ओर गंगा गोमती एक्सप्रेस यार्ड में खड़ी थी। वहां परीक्षार्थी पहुंच गए और बोगियों में चढ़ गए। सीटों को कब्जा लिया। 

लखनऊ अयोध्या कैंट ट्रेन को अकबरपुर तक चलाना पड़ा। परीक्षार्थी ट्रेनों के इंजन, लगेज यान, दिव्यांग व महिला बोगियों तक में भरे रहे।  दिव्यांग व महिला बोगियों को भी परीक्षार्थियों ने कब्जाया। इस दौरान आरपीएफ  और जीआरपी ने कड़ी मशक्कत की लेकिन परीक्षार्थियों की भीड़ के आगे बेबस नजर आए। प्रयागराज व वाराणसी जाने वाली ट्रेनों में सर्वाधिक भीड़ रही। 

लखनऊ प्रयागराज संगम एक्सप्रेस को चारबाग रेलवे स्टेशन से रात आठ बजे रवाना किया जाना था। ट्रेन नौ नंबर प्लेटफॉर्म पर शाम सात बजे ही आ गई। जब ट्रेन छूट गई तो कुछ परीक्षार्थियों ने ट्रैक पर दौड़ते हुए उसे पकड़ने का प्रयास किया, पर जीआरपी ने उन्हें रोक लिया।





Source link

RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular

Recent Comments

spot_img